Ad

हल्द्वानी- 2 साल बाद हुई बीडीसी बैठक, उठे 56 मुद्दे, BDC गरिमा पांडे ने उठाई किसानों की आवाज

खबर शेयर करें

हल्द्वानी – कोरोना महामारी के कारण लगभग 2 वर्ष के बाद ब्लॉक प्रमुख रूपा देवी की अध्यक्षता में हल्द्वानी क्षेत्र पंचायत की बैठक आयोजित हुई। जिसमें जनप्रतिनिधियों द्वारा 56 महत्वपूर्ण शिकायतें उठाई गई। ब्लॉक प्रमुख रूपा देवी ने सम्बोधित करते हुए कहा कि क्षेत्र पंचायत बैठक में जनप्रतिनिधियों द्वारा जो समस्यायंे उठाई गई है उनका निस्तारण करें तांकि ये शिकायते अगली बैठक में ना आये। उन्होने कहा अधिकारी व जनप्रतिनिधि आपस में समन्वय से क्षेत्र के विकास में अपनी सहभागिता निभाये।


मुख्य विकास अधिकारी डॉ. संदीप तिवारी ने कहा कि अधिकारियों व जनप्रतिनिधि बेहतर समन्वय बनाते हुए विकास कार्यो का सम्पादन करें तांकि योजनाओं का अधिकतम व समय से जनता को लाभ मिल सके। उन्होने कहा कि कार्य योजनाये बनाते समय क्षेत्र के जनप्रतिनिधियांे व जनता से समन्वय करते हुए बनाये जाये तांकि क्षेत्रवासियों को अधिकतम लाभ मिल सके। उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिये कि बैठक में उठाई गई समस्याओं का समय से निस्तारण करना सुनिश्चित करें तथा समस्या निस्तारण से सम्बन्धित जनप्रतिनिधियों को अवगत कराये। डॉ. तिवारी ने कहा कि हालही में जनपद में आयी आपदा से बहुत नुकसान हुआ है इसलिए आपदा से क्षतिग्रस्त कार्यो के प्रस्ताव बनाकर कार्यो को तेजी से किया जाये तांकि पूर्व की भाति व्यवस्थाएं सुनिश्चित हो सके। उन्होने कहा आपदा से विभागीय परिसम्पतियों को बहुत नुकसान हुआ है जिनके आंगणन प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजे गये है शासन द्वारा प्रस्ताव केन्द्र सरकार को प्रेषित कर दिये गये है। उन्होने कहा कि बैठकों में स्वंय सक्षम अधिकारी उपस्थित रहें तांकि जनप्रतिनिधियों के प्रश्नों व उनकी समस्याओं का मौके पर जवाब व समाधान किया जा सके।

बीडीसी बैठक में क्षेत्र पंचायत सदस्य गरिमा पांडे ने उठाया किसानों का मामला।

विकास खंड हलद्वानी में आज बीडीसी बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें सदस्य क्षेत्र पंचायत जयपुर खीमा पदमपुर देवलिया की क्षेत्र पंचायत सदस्य गरिमा पांडे ने किसानों का मुद्दा बड़ी ही प्रमुखता से उठाया, आपको बता दे कि जंगली हाथियों व जंगली जानवरों द्वारा किसानों की फसलों का नुकसान किया जा रहा है, जिससे किसान खासे परेशान है, क्षेत्र पंचायत सदस्य गरिमा पांडे ने कहा कि किसानों को जो वन विभाग द्वारा फसलो के नुकसान का पैसा दिया जाता है, वो इस महगाई के दौर में बहुत कम है, उन्होंने कहा कि खाद बीज हर कुछ आजकल महँगा हो चुका है, लेकिन वन विभाग आज भी किसानों को 2002-3 में बने कानून के हिसाब से मुआवजा दे रहा है ,उन्होंने आज बीडीसी सदन में पुरजोर तरीके से किसानों के मुआवजे को बढ़ाने की माग रखी उन्होंने हाथियों से हुए गन्ने की फसलों को जल्द कटवाने के लिए वन विभाग से कहा कि जिनकी फसलों का नुकसान होता है उन कास्तकारों को गन्ने की पर्ची जल्दी मिलनी चाहिए जिससे कास्तकार अपना गन्ना समय से सेंटर पहुचा सके और उनको नुकसान न हो,

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यहां इस हालत में मिली युवक की लाश, मंगलवार से था लापता
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments