उत्तराखंड : यहां होटल में दो बहनों से किया दुष्कर्म, तीन आरोपी गिरफ्तार

खबर शेयर करें -

हरिद्वार। रुड़की क्षेत्र की दो नाबालिग बहनों के अपहरण मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने पहले दोनों बहनों का अपहरण किया फिर मसूरी ले जाकर होटल में दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था। पुलिस ने दोनों बहनों को कलियर से बरामद कर लिया है। बताया जा रहा है कि तीनों आरोपित रुड़की सिविल अस्पताल के अस्थायी कर्मचारी रह चुके हैं। पुलिस ने तीनों आरोपितों को न्यायालय के समक्ष पेश किया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया है।

मंगलवार की शाम कोतवाली पुलिस ने सूचना के आधार पर कलियर से दोनों बहनों को बदहवास हालत में बरामद किया। पुलिस ने जब उनसे पूछताछ की गई तो नाबालिग बहनों ने कोतवाली गंगनहर क्षेत्र के गुलाब नगर रामपुर गांव निवासी वसीम, कोटा मुरादनगर थाना कलियर निवासी शाहरुख और शिवपुरम आजाद नगर कोतवाली गंगनहर रुड़की निवासी सचिन के नाम बताए।

उन्होंने बताया कि तीनों युवक बहला-फुसलाकर उन्हें अपने साथ कार से मसूरी ले गए थे। जहां एक होटल में ले जाकर उनके साथ दुष्कर्म किया गया। उन्होंने बताया कि मंगलवार की शाम तीनों युवकों ने उन्हें कलियर में छोड़ दिया और कार लेकर फरार हो गए। पूछताछ के बाद कोतवाली पुलिस ने मंगलवार की देर शाम तीनों युवकों को रामपुर से गिरफ्तार कर लिया। सिविल लाइन कोतवाली के वरिष्ठ उपनिरीक्षक प्रदीप तोमर ने बताया कि आरोपित वसीम, शाहरुख और सचिन रुड़की सिविल अस्पताल के अस्थायी कर्मचारी रह चुके हैं।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) बजट पर बोले मंत्री, भारत के स्वर्णिम भविष्य की नींव है बजट
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) महीने में एक दिन बच्चे बिना बैग के जायेंगे स्कूल

गौरतलब है कि 16 जनवरी को रुड़की सिविल लाइन कोतवाली क्षेत्र निवासी एक ग्रामीण ने सिविल लाइन कोतवाली पुलिस को तहरीर दी थी। जिसमें उन्होंने बताया था कि उसकी दो नाबालिग बेटी 15 जनवरी से गायब हैं। काफी तलाश करने के बाद भी उनका कोई पता नहीं चला सका है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश शुरू की।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

[wp-post-author]

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments