Shemford School Haldwani
मैरीन कमांडो की टीम चला रही सर्च ऑपरेशन

उत्तराखंड- (चमोली हादसा) मरीन कमांडो की टीम चला रही सर्च ऑपरेशन, 168 लोग अभी भी लापता, जानिए पूरी अपडेट

Ad - Bansal Jewellers
Advertisement
खबर शेयर करें

चमोली के आपदा प्रभावित क्षेत्र रेणी तपोवन में राहत, बचाव और खोज अभियान लगातार जारी है। यहां जिला प्रशासन की देखरेख में आर्मी, एनएडीआरएफ, एसडीआरएफ की टीम लापता एवं टनल में फंसे लोगों को निकालने के लिए दिन-रात जुटी है। वृहस्पतिवार को 2 अन्य लापता लोगों के शव अलकनंदा नदी किनारे से बरामद किए गए। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने बताया कि आपदा मे लापता 206 लोगों मे से अभी तक 36 लोगों के शव नदी किनारे विभिन्न स्थानों से बरामद हुए है। आपदा में 36 लोगो के शव और 2 लोगों के जिन्दा मिलने के बाद अब 168 लोग लापता चल रहे है जिनकी तलाश जारी है।

यह भी पढ़े 👉हल्द्वानी- SSP ने की अपराध समीक्षा, थाने चौकी इंचार्जों को दिए ये 13 निर्देश

वृहस्पतिवार को कर्णप्रयाग संगम पर विगत दिनों तपोवन आपदा में प्राप्त 4 पूर्ण मानव शव तथा 7 मानव अंग और चमोली घाट पर 3 पूर्ण शवों को नियमानुसार 72 घंटे बाद अंतिम संस्कार किया गया। वही जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया के निर्देशों पर रेणी और तपोवन की आपदा मे मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख की सहायता राशि वितरण शुरू कर दिया गया है।। आपदा मे मृतक गाडी गांव निवासी बलवीर सिंह, बैनोली निवासी मनोज चौधरी व तपोवन निवासी नरेन्द्र लाल के परिजनों के खाते में आज राहत राशि भेजी गई। इससे पूर्व गढवाल आयुक्त रविनाथ रमन एवं जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने तपोवन मे प्रेस कान्फ्रेंस कर राहत एवं बचाव कार्यो के बारे मीडिया को विस्तृत जानकारी दी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहां स्कार्पियो ने 6 लोगों को मारी टक्कर, दो महिला सहित तीन की मौत

यह भी पढ़े 👉GOOD NEWS- उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय को मिले इतने नए टीचर, शुरू होंगे नए पाठ्यक्रम

गढवाल आयुक्त ने तपोवन टनल मे रेस्क्यू कार्यो की जानकारी देते हुए बताया कि विपरीत परिस्थितियों के बावजूद टनल के अंदर से मलवा निकालने का काम लगातार जारी है और रेस्क्यू मे लगे लोगों की सुरक्षा को ध्यान मे रखकर कार्य किया जा रहा है। राहत एवं बचाव कार्यो की जानकारी देते हुए जिलाधिकारी ने बताया लापता लोगों की सूची पहले ही जारी कर दी गई है। जिसमें से 36 लोगो के शव मिले है। नियमानुसार 72 घंटे के बाद शवों का अंतिम संस्कार आज से शुरू किया गया है। आपदा से प्रभावित सभी 13 गांवों मे पहले दिन से ही हैली से राहत सामग्री पहुचायी जा रही है। क्षेत्र मे 4 मेडिकल टीम की तैनाती की गई है जो विभिन्न जगहो पर कैंप लगाकर स्वास्थ्य परीक्षण कर रहे है। बीमार और गर्भवती महिलाओं को भी हैली सुविधा मुहैया कराई जा रही है। मृतकों के परिजनों को सहायता राशि वितरण भी आज से शुरू कर दिया गया है। लापता लोगों के बारे में उनके परिजनों को जानकारी देने के साथ भोजन व आवास व्यवस्था के लिए तपोवन में हेल्प डेस्क काउंटर एवं राहत शिविर भी लगाया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- राज्य में आ जाए इतने मामले, देखिए हेल्थ बुलेटिन
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- देखिए कैसे कार से टायर चुरा ले गया चोर, CCTV

यह भी पढ़े 👉भीमताल- नवनियुक्त DM धीराज गब्र्याल ने ली समीक्षा बैठक, ऐसे तेजी से होंगे अब जिले में विकास कार्य

इस दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि मरीन कमांडो की एक टुकडी के माध्यम से श्रीनगर डैम के आसपास खोजबीन करायी जा रही है। इसके अतिरिक्त एसडीआरएफ को रेणी तपोवन के अतिरिक्त अलकनंदा व धौलीगंगा किनारे सर्च आपरेशन मे लगाया गया है।

यह भी पढ़े 👉हल्द्वानी- लॉकडाउन में हुए बेरोजगार तो बनाने लगे ठगी का शिकार, ऐसे लगाया ज्वेलर्स को चूना

Ad - Shakti Tiwari 15 Aug_compressed
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments