Ad

बरामदे, कितने जरूरी है ?…

Ad - Bansal Jewellers
खबर शेयर करें

बरामदे ;
कितने जरूरी है ?
घर में ,
बरामदे!
जो बंद और तंग नही होते ,
खुली दुनिया दिखाते हैं ।
बरामदे जो घर नही होते ,
बारिश और धूप से बचाते हैं,
खुला नीला आसमान दीखा ,
हकीकत बताते हैं ।
जता कर घर का भरोसा ..
बरामदे, दुनिया को देखना ,
और लडना सीखाते हैं ।
बरामदे !
जो घर नहीं होते,
कितने जरूरी होते हैं !

( बरामदे से पहली बारिश से बात-चीत )

Ad
Ad
Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments