Shemford School Haldwani
दो युवकों ने आत्मदाह के लिए अपने ऊपर डाला मिट्टी का तेल

उत्तराखंड- यहां जब दो युवकों ने आत्मदाह के लिए अपने ऊपर डाला मिट्टी का तेल, पुलिस प्रशासन में मचा हड़कंप, देखिए Video

Bansal Sarees & Bansal Jewellers Ad
खबर शेयर करें

उत्तराखंड के नैनीताल में दो युवकों का हाई टैक ड्रामा तब देखने को मिला जब उन्होंने अपनी मांग को लेकर शरीर पर मट्टी का तेल छिड़क लिया । पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए दोनों युवकों को हिरासत में ले लिया जिससे अनहोनी होने से बच गई ।

यह भी पढ़े 👉.नैनीताल- शहरों और आबादी वाले इलाके में इस कार्य में JCB पाई गई तो होगी एफ आई आर, DM बंसल ने दिए निर्देश

Kisaan Bhog Ata


नैनीताल नगर पालिका के आउट सोर्सिंग में पूर्व में कार्यरत दो वाहन चालक पवन और सौरभ ने दोबारा से आत्मदाह करने की धमकी दी ऐलान को अंजाम देने के लिए नगर पालिक परिसर के सामने पहुंचे । उन्होंने अपने शरीर पर मट्टी का तेल डालकर आत्मदाह करने का प्रयास किया। घटनास्थल पर मौजूद पुलिस और एल.आई.यू.की टीम ने बलपूर्वक दोनों युवकों को आत्मदाह करने से रोक लिया।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) 41 दरोगाओं के तबादले, देखिए किसे कहाँ मिली जिम्मेदारी

यह भी पढ़े 👉.उत्तराखंड-(बड़ी खबर) उत्तराखंड 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा का ऐलान, जानिए शेड्यूल


नगर पालिकाध्यक्ष सचिन नेगी से दोनों युवकों के परिजन और नगर पालिका के वरिष्ठ कर्मचारी मामले के समाधान के लिए पहुँचे। सभी ने पालिकाध्यक्ष से युवको को काम पर रखने की बात कही। पालिकाध्यक्ष ने कहा कि दोनो युवक आउट सोर्सिंग से ठेकेदार द्वारा लगाए और निकाले गए है और नगर पालिका इस मामले में कोई हस्तक्षेप नही कर सकती। उन्होंने परिजनों को आश्वस्त किया कि वो अधिशाषी अभियंता से वार्ता कर किसी दूसरे काम मे लगाने की कोशिश करेंगे । आश्वासन से नाखुश आक्रोशित युवकों ने नगर पालिका के समक्ष मट्टी का तेल छिड़ककर आत्मदाह करने का प्रयास किया। जिसपर पुलिस और एल.आई.यू.की टीम ने दोनों को रोका दिया। घटना के बाद ही पुलिस दोनों युवकों को कोतवाली ले गई।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- राज्य में एक्टिव केस 2896, और 8 लोगों की मौत, जानिए अपने इलाके का हाल

यह भी पढ़े 👉.उत्तराखंड-(बड़ी खबर) कांग्रेस सत्ता में आई तो यह चीज मिलेगी मुफ्त: इंदिरा हृदयेश


मामले के अनुसार पवन और सौरभ को 22 दिसंबर 2020 को शिकायतों के आधार पर नौकरी से बाहर निकाला गया था। लेकिन नगर पालिकाध्यक्ष और अधिशाषी अभियंता ने दोनों परिवारो की समस्या 10 दिन के भीतर काम पर वापस रखने का अस्वासन दिया था। वाहन चालकों के अनुसार पालिकाध्यक्ष सचिन नेगी ने उन्हें इनके पूर्व कार्य में ना रखते हुए नगर पालिका के दूसरे काम मे रखने का अस्वासन दिया था। एक माह से ज्यादा बीत जाने के बाद भी उन्हें अबतक कार्य मे वापस नही रखा गया है, जिसपर उन्हीने 6 फरवरी को आत्मदाह की धमकी दी थी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- नाबालिक को बुलेट की सवारी पड़ गई भारी, कट गया 28500 का चालान

यह भी पढ़े 👉.दिल्ली से घूमने आई महिला ने यहां होमस्टे में उठाया आत्मघाती कदम


वहीं पालिकाध्यक्ष सचिन नेगी ने बताया कि आउटसोर्सिंग से लगे कर्मचारियों को नौकरी से निकालने और रखने का अधिकार और जिम्मेदारी नगर पालिका की नहीं होती, लेकिन कोरोना काल और उनकी परेशानियों को देखते हुए उन्हें डोर टू डोर संस्था से बात कर किसी काम से जोड़ा जाएगा।

यह भी पढ़े 👉.नैनीताल-(हद है) गिफ्ट के झांसे में आकर लुट गई इतनी बड़ी रकम, आखिर समझ नहीं रहे लोग

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments