डॉ. रूचि जोशी तिवारी की ‘कल्चर एंड स्कोलास्टिक बिहेवियर’ पुस्‍तक का हुआ विमोचन

खबर शेयर करें -


·       शोधपरक है ‘कल्चर एंड स्कोलास्टिक बिहेवियर’ पुस्‍तक ।
·       बच्‍चों  पर मनोवैज्ञानिक प्रभाव का अध्‍ययन कराती है पुस्‍तक ।
·       विद्यालयों के लिए उपयोगी सिद्ध हो सकती है पुस्‍तक।
उत्‍त्‍राखण्‍ड मुक्‍त विश्‍वविद्यालय की  मनोविज्ञान विभाग की सहायक  प्राध्‍यापक डॉ0 रूचि जोशी तिवारी और कुमाउ विश्‍वविद्यालय की सेवानिवृत प्रो0 आराधना शुक्ला की किताब ‘कल्चर एंड स्कोलास्टिक बिहेवियर’ का विमोचन उत्‍तराखण्‍ड महिला आयोग की अध्‍यक्ष कुसुम कण्‍डवाल व विश्‍वविद्यालय के कुलपति प्रो0 ओ0 पी0 एस नेगी  ने किया।  डॉ0 रूचि की यह पुस्‍तक शोधपरक है, जिसमें बहुत रोचक तथ्‍यों का समावेश है, जो हमारी संस्‍कृति से जुडे हुए हैं। यह पुस्‍तक जहां शोधपरक है वहीं मनोवैज्ञानिक प्रभावों का अध्‍ययन भी कराती है। इस पुस्तक में भारतीय संस्कृति, घर की संस्कृति और विद्यालयी संस्कृति का बच्चों के विद्यालय निष्पादन के ऊपर क्या प्रभाव पड़ता है इसका अध्ययन किया गया है।  


डॉ0 रूचि से जब  पुस्‍तक के बारे में  पूछा गया तो उनका कहना  था कि कभी ऐसा होता है कि बच्चों का घरेलु वातावरण सही नहीं रहता जिससे उनका पढ़ने में मन नहीं लगता, कभी परिस्थितियां ऐसी होती है जैसे-  स्कूल फोबिया, टीचर के साथ सम्बन्ध और पीयर प्रेशर. इन सब की वजह से बच्चे नहीं पढ़ पाते।  अगर यह सब चीजे सकारात्मक होती है तो बच्चे अच्छे से पढ़ पाते है।  जनजातियों के जो सांस्कृतिक अंतर है उसका भी बच्चों के मनोवैज्ञानिक विकास पर बहुत अधिक प्रभाव पढ़ता है। जैसे- जैसे बच्चा बड़ा होता जाता है वैसे- वैसे बच्चा प्रसंस्कृत होता जाता है वह अपनी संस्कृति से थोड़ा परे होता जाता है तो वह जो मुख्य धारा में समाहित होता जाता है और उसके यह सामान्य विचार भाव सामान्य धारा की और हो जाते हैं। शैक्षिक अभिप्रेरण, शैक्षिक प्रतिबल उसका प्रबंधन और उसके साथ ही बच्चों के स्कूल से सम्बंधित जो समस्यायें और जो उनकी क्रियायें थी उनके ऊपर इस शोधपरक पुस्‍तक  में  अध्ययन किया गया है।  इस शोधपरक पुस्‍तक में उनके द्वारा थारू, बोक्‍सा जनजाति के आलावा कुमाउ क्षेत्र के सामान्‍य जाति के बच्‍चों पर मनोवैज्ञानिक अध्‍ययन किया गया है।


उन्‍होंने कहा कि यह पुस्तक न केवल समाजोपयोगी होगी बल्कि शोध छात्रों, अध्यापकों, विद्यार्थियों, मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल और जो कोई भी मनुष्य व्यवहार के बारे में, मानसिक स्वास्थ्य के बारे में जानना चाहता है उसके लिए भी बहुत ही उपयोगी होगी।
 
 

About Post Author

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

WP Post Author

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments