देहरादून- इस जिले में टीचरों के फोन पर चैटिंग, गेम खेलने की शिकायत के बाद DM का सख्त एक्शन, दिया यह निर्देश

खबर शेयर करें -

देहरादून- ड्यूटी के दौरान कुछ शिक्षकों के मोबाइल फोन पर चैटिंग और गेम खेलने की शिकायत को हरिद्वार के जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को ऐसे शिक्षकों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

डीएम हरिद्वार का आदेश

विभिन्न जनप्रतिनिधियों एवं अभिभावकों के माध्यम से तथा प्रशासनिक अधिकारियों के औचक निरीक्षण में यह तथ्य संज्ञान में आया है कि जनपद के शासकीय / अर्द्धशासकीय विद्यालयों में शिक्षकगण अपने मूल कार्यभार (शिक्षण कार्य) के दौरान मोबाईल में सोशल मीडिया एवं वार्तालाप तथा मोबाईल में गेम खेलने में व्यस्त रहते है। यह एक गम्भीर स्थिति है, जो छात्र-छात्राओं के भविष्य एवं शैक्षणिक गुणवत्ता के विपरीत है।

अतः सम्यक विचारोपरान्त निम्नलिखित निर्देश पारित किये जाते है: 1- स्कूल संचालन अवधि में सभी शिक्षक अपना मोबाईल प्रधानाचार्य / प्रधानाध्यापक को उपलब्ध करायेगें। किसी आकस्मिकता की स्थिति यथा किसी परिजन के बीमार होने या चिकित्सकीय आकस्मिकता की स्थिति में सम्बन्धित प्रधानाचार्य / प्रधानाध्यापक सम्बन्धित शिक्षक को उक्त अवसर हेतु स्कूल संचालन अवधि में मोबाईल उपयोग की अनुमति प्रदान करेगें।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(बड़ी खबर) अंकिता हत्याकांड मामला, परिजनों ने रोका अंतिम संस्कार
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(बड़ी खबर) कल चलेगा हाकम के अवैध रिजॉर्ट पर बुलडोजर

2- प्रशासनिक एवं विभागीय अधिकारियों निरीक्षण के समय यदि किसी शिक्षक के पास मोबाईल पाया जाता है अथवा कोई शिक्षक मोबाईल पर बात करते. गेम्स खेलते या सोशल मीडिया पर संलिप्त होना पाया जाता है तो सम्बन्धित शिक्षक के साथ-साथ सम्बन्धित प्रधानाचार्य / प्रधानाध्यापक का उत्तरदायित्व निर्धारित करते हुए उनके विरुद्ध प्रशासनिक कार्यवाही की जायेगी।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) दरोगा भर्ती घपले में विजिलेंस को मुकदमा दर्ज करने की मिली अनुमति, अब होंगे कई बेनकाब

About Post Author

Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

WP Post Author

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments