उत्तराखंड- ऐसे ही नहीं तोड़ दिया शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने मिथक

खबर शेयर करें -

उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने ऊधम सिंह ज़िले की गरदपुर सीट पर पाँचवी बार भी जीत दर्ज कर अपना दबदबा बरकरार रखा है। इसके साथ ही अरविंद पांडेय में प्रदेश में किसी भी शिक्षा मंत्री के चुनाव ना जीतने के मिथक को भी तोड़ दिया है। अरविंद पांडेय की इस जीत के साथ ही उनका क़द प्रदेश की सियासत में और बढ़ गया है।

दरअसल शिक्षा मंत्री रहते पुराने कार्यकाल में अरविंद के खाते में कई बड़ी उपलब्धियाँ जुड़ी हुई हैं शिक्षा मंत्री के तौर पर पांडेय ने स्कूलों में NCRT पुस्तकों को लागू करने, हर विकास खंड में CBSE पाठ्यक्रम के स्कूलों की स्थापना करने के साथ ही स्कूली छात्रों की स्कॉलर्शिप में कई गुना इज़ाफ़ा करने जैसे महत्वपूर्ण कार्य किए हैं।

इसके अलावा पंचायती राज विभाग में ग्राम प्रधानों के मानदेय में बढ़ोतरी के साथ ही प्रधान से लेकर पंचायत प्रतिनिधियों के ढाँचे को भी मजबूत करने का काम किया है ।

एक नज़र सियासी करियर पर

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-(बड़ी खबर) अब इनसे सावधान रहने की जरूरत, पुलिस ने पकड़ी 4 महिला चैन स्नैचर

अरविन्द पाण्डेय , भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सदस्य हैं। बाल्यकाल से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े और सक्रिय कार्यकर्ता हैं।

1997 से 2002 : बाजपुर नगर पालिका अध्यक्ष रहे।
(उत्तर प्रदेश सरकार में सबसे कम उम्र के नगर पालिका अध्यक्ष बने)
2002 : उत्तराखंड आम चुनाव में प्रथम बार बाजपुर विधानसभा क्षेत्र से विजय हुए।
2007 : उत्तराखंड आम चुनाव में दूसरी बार बाजपुर विधानसभा क्षेत्र से विजय हुए।
2004 – 2007 : उत्तराखंड विधानसभा के सार्वजनिक उपक्रम एवं निगम समिति के सदस्य रहे।
2007 – 2008 : उत्तराखंड विधानसभा की याचिका समिति व नियम समिति के सदस्य रहे।
2008 – 2009 : उत्तराखंड विधानसभा की लोक लेखा समिति के सदस्य रहे।
2008 – 2009 : उत्तराखंड विधानसभा की प्रति निहित विधायन समिति के सदस्य रहे।
2012 : उत्तराखंड आम चुनाव में तीसरी बार गदरपुर विधानसभा क्षेत्र से विजय हुए।
2017 : उत्तराखंड आम चुनाव में चौथी बार गदरपुर विधानसभा क्षेत्र से विजय हुए।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand (Job Alert)- रेलवे ने निकाली 3115 पदों पर बंपर भर्ती, 10वीं या 12वीं पास जल्द करें आवेदन

18 मार्च 2017 – 12 मार्च 2021 : त्रिवेंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री नियुक्त और प्रदेश विद्यालयी शिक्षा, प्रौढ़ शिक्षा, संस्कृत शिक्षा, खेल, युवा कल्याण एवं पंचायती राज विभाग की जिम्मेदारी संभाली।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः यहां पुलिस ने फार्च्यूनर कार से पकड़ी छह लाख की नकदी, दो युवक गिरफ्तार

12 मार्च 2021 – 4 जुलाई 2021 : तीरथ सरकार में कैबिनेट मंत्री नियुक्त और
प्रदेश विद्यालयी शिक्षा, प्रौढ़ शिक्षा, संस्कृत शिक्षा, खेल, युवा कल्याण एवं
पंचायती राज विभाग की जिम्मेदारी संभाली।

4 जुलाई 2021 को पुष्कर धामी सरकार में कैबिनेट मंत्री नियुक्त तथा
पुनः प्रदेश विद्यालयी शिक्षा, प्रौढ़ शिक्षा, संस्कृत शिक्षा, खेल,
युवा कल्याण एवं पंचायती राज विभाग की जिम्मेदारी मिली।

10 मार्च 2022 : उत्तराखंड आम चुनाव में पाँचवी बार गदरपुर विधानसभा क्षेत्र से विजय हुए।

About Post Author

Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

WP Post Author

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments