उत्तराखंड- बिजली कनेक्शन के नाम पर SDO मांग रहा था 20 हजार की रिश्वत, हो गया रंगे हाथ गिरफ्तार

खबर शेयर करें -

हरिद्वार- सरकारी सिस्टम में भ्रष्टाचार अभी भी जड़े जमाए हुए हैं सरकार ऑनलाइन सिस्टम से लेकर सिंगल विंडो सिस्टम के लाख दावे कर ले लेकिन भ्रष्टाचार की जड़ें इतनी गहरी है कि किसी न किसी रूप में भ्रष्ट अधिकारी और कर्मचारी इसे नए नए तरीके देते रहते हैं। अब ताजा मामला हरिद्वार के कनखल इलाके का है। जहां पार्षद के भाई से बिजली के कनेक्शन के नाम पर ₹20000 की रिश्वत लेते हुए ऊर्जा निगम के एसडीओ को विजिलेंस टीम ने रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।

बताया जा रहा है कि एसडीओ पार्षद के भाई को कनेक्शन के नाम पर पिछले 4 महीने से टहला रहा था। पुलिस के मुताबिक जगजीतपुर के राजा गार्डन से भाजपा पार्षद लोकेश पाल के भाई महेश पाल ने बिजली के कनेक्शन के लिए ऑनलाइन आवेदन 4 महीने पहले किया था। लेकिन उस क्षेत्र के एसडीओ संदीप शर्मा लगातार महेश को टालमटोल करते जा रहे थे। महेश पाल को पता चला कि उन्हें कनेक्शन के नाम पर ₹20000 की रिश्वत देनी पड़ेगी। जिसके बाद उन्होंने विजिलेंस को यह जानकारी दी। तय योजना के तहत शनिवार दोपहर महेश रिश्वत की रकम लेकर पहुंचा। जैसे ही रिश्वत के ₹20000 एसडीओ ने पकड़े तो विजिलेंस टीम ने उसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। जिसके बाद विजिलेंस टीम ने घंटों तक एसडीओ संदीप शर्मा से पूछताछ की और दफ्तर में भी कई फाइलें कंगाली जिसके बाद विजिलेंस टीम एसडीओ को देहरादून लेकर गई।

About Post Author

Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

WP Post Author

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments