Shemford School Haldwani

बागेश्वर- 10 दिन का होम आइसोलेशन और 7 दिन का होम क्वॉरेंटाइन अनिवार्य, DM ने दिए निर्देश

Bansal Sarees & Bansal Jewellers Ad
Advertisement
खबर शेयर करें
  • 356
    Shares

बागेश्वर- जनपद में कोरोना संक्रमण के बढते मामलों पर प्रभावी नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए जनपद में आने वाले व्यक्तियों को होम आइसोलेशन कियें जाने तथा उनकी निरंतर निगरानी कियें जाने के संबंध में जिलाधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में जिला कार्यालय सभागार में स्वास्थ विभाग सहित संबंधित नोडल अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में विगत कर्इ दिनों से कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ रहें हैं जिसके लिए यह आवश्यक हैं कि जनपद में आने वाले व्यक्तियों को होम आइसोलेशन करने तथा उन्हें उचित चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करायें जाने व सभी का डाटा गूगल सीट के माध्यम से तैयार कियें जाने हेतु नोडल अधिकारी होम आइसोलेशन को निर्देश दियें।

उन्होंने नोडल अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि गूगल सीट के माध्यम से होम आइसोलेशन किये जाने वाले व्यक्तियों का डाटा ठीक तरह से फीट किया जाय, जिसमें आने वाले व्यक्ति का नाम, मोबार्इल नंबर, विकास खंड का नाम आदि का अनिवार्य रूप से अंकन किया जाय तथा इसके साथ ही होम आइसोलेशन में रह रहें व्यक्ति को कब एचआर्इ किट उपलब्ध हुर्इ एवं कब डॉक्टरों द्वारा स्वास्थ परीक्षण किया गया हैं इसका भलिभांती अंकन किया जाय ताकि होम आइसोलेशन में रह रहें व्यक्तियों की ठीक ढंग से निगरानी की जा सकें।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- UKSSSC ने जारी किया सहायक अध्यापक एलटी के परीक्षा को लेकर बड़ा अपडेट

उन्होने यह भी कहा कि होम आइसोलेशन रह रहा व्यक्ति यदि संक्रमित हो जाता है, तो उसे 10 दिन तक होम आइसोलेशन में रखा जाय, तथा सात दिन के लिए होम क्वारंटीन अनिवार्य रूप से किया जाय। उन्होने कहा कि यदि किसी व्यक्ति का स्वास्थ खराब होता हैं तो संबंधित क्षेत्र के एम0ओ0आर्इ0सी0 से संपर्क करते हुए मरीज में परिलक्षित लक्षणों के आधार पर व डॉक्टर की सलाह के अनुसार उस व्यक्ति को कोविड केयर सेंटर या कोविड चिकित्सालय में उपचार हेतु भेजा जाय।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-(राहत) इन वाहनों के लिए खुला रानीबाग- भीमताल पुल

उन्होने नोडल अधिकारी होम आइसोलेशन को निर्देश दियें कि होम आइसोलेशन में रह रहें लोगो से दूरभाष पर संपर्क करते हुए उनके स्वास्थ के संबंध में निरंतर जानकरी ली जाय तथा किसी व्यक्ति में किसी प्रकार के लक्षण होने पर उसे नजदीकी चिकित्सालय में परीक्षण हेतु पहुंचाया जाय। उन्होने नोडल अधिकारी बीआरटी एवं सीआटी को निर्देश दियें कि वे भी कंट्रोल रूम के माध्यम से होम आइसोलेशन मे रह रहें लोंगो की भी जानकारी लेते रहें ।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- इस कारण बैराज में आत्महत्या करने पहुंचा युवक, कूदने ही वाला था कि...

उन्होंने सभी नोडल अधिकारियों से कहा कि वे आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन बडी सजगता से करें। बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दियें कि जनपद में बढते कोरोना संक्रमण के मामलों को ध्यान में रखते हुए कोविड चिकित्सालय व बानयें गयें कोविड केयर सेंटरों में किसी भी तरह से ऑक्सीजन की कमी न हो, इसके लिए वे निरंतर मॉनिटरिंग करते रहें।

बैठक में अपर जिलाधिकारी हेमन्त कुमार वर्मा, प्रभारी मुख्य विकास अधिकारी के0एन0तिवारी, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 बीडी जोशी, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 वीके सैक्सेना, मुख्य कृषि अधिकारी वीपी मौर्या, जिला उद्यान अधिकारी आरके सिंह, डॉ0 एजैल पटेल, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी भावेश जगरिया, र्इ-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर रोहित बहुगुणा, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी शिखा सुयाल सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहें।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments