Shemford School Haldwani

देहरादून- पहली बार राज्य की PCS एसोसिएशन में दिखा दम, इन मुद्दों पर सीएम धामी से हुई वन टू वन

Ad - Bansal Jewellers
खबर शेयर करें

Dehradun News- उत्तराखंड पीसीएस एसोसिएशन भी अपनी मांगों को लेकर मुखर हो गया है। उत्तराखंड पीसीएस एसोसिएशन के अध्यक्ष ललित मोहन रयाल ने आज देहरादून में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात कर लंबे समय से पीसीएस एसोसिएशन की 13 सूत्रीय मांगों को तत्काल निस्तारित करने की मांग की। राज्य में पहली बार पीसीएस एसोसिएशन खुलकर अपनी मांगों को लेकर सरकार के समक्ष आया है। पीसीएस एसोसिएशन की तरफ़ से दिए गए ज्ञापन में लिखा गया है कि…

महोदय , उत्तराखण्ड सिविल सेवा ( कार्यकारी शाखा ) प्रदेश की आई ० टी सर्वोच्च प्रशासनिक सेवा होने के कारण शासन की नीति निर्माण के साथ ही उसे धरातल पर लागू कराने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है , लेकिन उत्तराखण्ड राज्य बनने के बाद से ही उत्तराखण्ड सिविल सेवा कार्यकारी शाखा के सेवा सम्बन्धी विभिन्न प्रकरण लगातार प्रत्यावेदन देने के बावजूद भी लम्बित होने के कारण उत्तराखण्ड सिविल सेवा ( कार्यकारी शाखा ) सम्वर्ग के सदस्य अपने को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं । उत्तराखण्ड सिविल सेवा ( कार्यकारी शाखा ) के निम्नांकित लम्बित मांगो को आपके संज्ञान में लाते हुए त्वरित हस्तक्षेप कर निस्तारण चाहते है ताकि सम्वर्ग का मनोबल बना रहे ।

1 . 2 . उत्तराखण्ड सिविल सेवा ( कार्यकारी शाखा ) वेतन बेण्ड लेवल 13 ( 37,400-67,000 ग्रेड वेतन 8700 ) में रिक्त पद तथा लेवल 13A ( 37,400-67,000 ग्रेड वेतन 8900 ) में रिक्त पद पर प्रान्तीय सेवा के लेवल 12 ( 15,600-39,100 ग्रेड वेतन 7600 ) में कार्यरत समस्त अधिकारियों का लेवल 13 में प्रोन्नति करने का कष्ट करें । वेतन वैण्ड लेवल 12 ( 15,600-39,100 ग्रेड वेतन 7600 ) में रिक्त होने वाले पदों पर संवर्ग के समुचित प्रबन्धन हेतु लेविल 11 ( 15,600-39,100 ग्रेड वेतन 6600 ) के अधिकारियों का प्रोन्नति करने का कष्ट करें । प्रान्तीय सिविल सेवा ( कार्यकारी शाखा ) से भारतीय प्रशासनिक सेवा ( IAS ) में वर्ष 2013 के बाद से प्रोन्नति इंडक्शन नहीं हो पाया है अतः प्रान्तीय सिविल सेवा के कोटे से प्रोन्नति से भरे जाने वाले पदों पर यथाशीघ्र प्रोन्नति करने का कष्ट करें ।

4 . 5 . उत्तराखण्ड सिविल सेवा ( कार्यकारी शाखा ) की वरिष्ठता सूची यथाशीघ्र जारी करने का कष्ट करें । उत्तराखण्ड सिविल सेवा ( कार्यकारी शाखा ) के जिन सदस्यों द्वारा पाँच वर्ष की सन्तोषजनक सेवा पूर्ण कर लिया हो उन्हें पाँच वर्ष की सेवा पूर्ण करने की तिथि से समयमान वेतनमान ग्रेड पे 6600 प्रदान किया जाय । 6 . -0 टी 0 ) श्री प्रवेश डंडरियाल पी ० सी ० एस ० – अर्हकारी सेवा पूर्ण करने के बावजूद बिना सेवा लाभ / सेवानिवृत्ति लाभ लिये अधिवर्षता को प्राप्त हो गए । इसी प्रकार श्री मनमोहन रावत पी ० सी ० एस ० को भी पदोन्नत / वेतनवृद्धि लिये बिना सेवानिवृत्ति के कगार पर हैं । शासन की अनिर्णय की स्थिति से इन अधिकारियों को वित्तीय लाभ की दृष्टि से अपूर्णीय क्षति हुई है ।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- राज्य में कोरोना के आज इतने मामले आए, देखिए अपने जिलों का हाल
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- नाबालिक को घर में अकेला देख मकान मालिक की डोली नियत और फिर...

7 . आई ० पी ० एस ० / आई ० एफ 0 एस 0 आदि संवर्गों में आवश्यकता से अधिक पदों के रखने के कारण उच्चतर वेतनमान पर कार्यरत अधिकारी निम्नतर वेतनमान पर कार्यरत हैं तथा आई ० ए ० एस ० या अन्य संवर्गों के पदों पर तैनाती ले रहे हैं । इसरो जिला स्तर पर प्रशासनिक कठिनाई आ रही है । इसी तरह पी ० सी ० एस ० सवंर्ग के पदों पर भी अन्य संवर्गों के अधिकारियों की तैनाती की जा रही है । उचित होगा कि बेहतर प्रशासनिक व्यवस्था हेतु पी ० सी ० एस ० कॉडर में संशोधन किया जाय ।

8 . विभिन्न प्राधिकरणों / निगमों आदि में तैनात पी ० सी ० एस ० अधिकारियों की भूमिका को विभागों द्वारा अत्यंत सीमित कर दिया गया है । आई ० ए ० एस ० संवर्ग के विभागाध्यक्ष के उपरान्त पी ० सी ० एस ० सवंर्ग के अधिकारियों की भूमिका रखी जाय , ताकि शासन का प्रत्यक्ष पर्यवेक्षण इन उपक्रमों में हो सके ।

9 . पी ० सी ० एस ० अधिकारियों के सेवा में आने के पश्चात विभिन्न स्तरों पर इनसर्विस ओरिऐंटेशन / रिफ्रेशर ट्रेनिंग का प्राविधान किया जाय । 10 . पी ० सी ० एस ० अधिकारियों को कैम्प सहायक / फॉलोवर एवं अर्दली की सुविधा दी जाय । 11 . विभागों / निगमों / प्राधिकरणों में तैनात पी ० सी ० एस ० अधिकारियों को विभागों / निगमों के सर्वोच्च पद के पश्चात द्वितीय स्थान का पद प्रदान किया जाय ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: (अजब- गजब)- यहां पत्नी ने बेटी की शादी को संजोये थे सपने, पिता घर से रूपये लेकर फरार…

12 . पी ० सी ० एस 0 अधिकारियों हेतु केन्द्रीय सेवा की भांति ए 0 सी 0 आर 0 की ऑनलाईन व्यवस्था की जाय । 13 . पी ० सी ० एस ० अधिकारियों की संयुक्त कोटिक्रम सूची अविलम्ब जारी कर उसके आधार पर फील्ड में तैनातियां की जायं । वर्तमान में फील्ड / कार्यालय में तैनातियों में वरिष्ठता का ध्यान न दिये जाने से असमंजस की स्थिति उत्पन्न होती जा रही है । उदाहरणार्थ एक ही चयन की कोटिक्रम सूची में नीचे के स्थान पर स्थापित अधिकारी को सिटी मजिस्ट्रेट तथा ऊपर के स्थान पर स्थापित अधिकारी को डिप्टी कलक्टर / एस 0 डी 0 एम 0 के पद पर तैनाती दी जा रही है । ऐसे कई अन्य उदाहरण भी महोदय से अनुरोध करना है कि उपरोक्त मांगो पर गम्भीरता पूर्वक विचार करते हुये उनके तत्काल निस्तारण करने का कष्ट करें ।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments