Ad
अभिनेता राघव जुयाल

उत्तराखंड: COVID-19 में मदद को पहाड़ पहुंचे अभिनेता राघव जुयाल, बोले पहाड़ी चटनी बनाकर रखना जल्द फिर आऊंगा..

खबर शेयर करें -

कोरोना महामारी में लोगों के मदद को कई संस्थाएं आगे आयी है। ऐसे में उत्तराखंड के प्रसिद्ध कोरियोग्राफर अभिनेता व नृतक राघव जुयाल भी लोगों की पहाड़ पहुंच गये। इससे पहले राघव ने लोगों ने उत्तराखंड की मदद करने की अपील की थी। जिसमें उन्होंने कहा था कि वह फ्री एड करेंगे। सोमवार को वह पीडि़त लोगों की मदद के लिए कुमाऊं के बागेश्वर व अल्मोड़ा जिलों में पहुंचे। वह पहाड़ के हर जिले में जाकर संगठनों के माध्यम से लोगों की मदद कर रहे हैं।

सोमवार को राघव ने अल्मोड़ा और बागेश्वर में राहत सामग्री के साथ कोरोना संक्रमण से बचाव की दवाइयां, थर्मामीटर व ऑक्सीमीटर क्षेत्र में बांटे। अभिनेता व कोरियोग्राफर राघव जुयाल कोरोना से पीडि़़तों की मदद के लिए हेलीकॉप्टर से अल्मोड़ा पहुंचे। इसके बाद वह जैसे ही वह बागेश्वर पहुंचे तो उनके चाहने वाले उन्हें देखने के लिए पहुंचने लगे। लोगों ने उनके साथ सेल्फी भी ली। कई लोगों ने उन्हें डांस के टिप्स बताने की बात कही। इस दौरान राघव ने तब सभी का दिल जीत लिया जब उन्होंने कहा कि हमारा पहला काम पहाड़ से कोरोना संक्रमण को दूर भगाना है। इसके लिए जो भी मदद होगी वह करूंगा।अपने चाहने वालों से कहा कि अगली बार चटनी बनाकर तैयार रखना महामारी के जाने के बाद यहां जरूर आऊंगा। प्रशंसकों ने कहा कि वह चटनी के साथ भट्ट की चुटकानी और भात भी खिलाएंगे। बता दें कि पहाड़ में भांग की चटनी प्रसिद्ध है जिसे लोग बड़े चाव से खाते है। पहाड़ पहुंचकर राघव को पहाड़ी चटनी की याद आयी।

गौरतलब है कि जुयाल ने कई कार्यक्रमों में अभिनय किया है। वह वर्ष 2015 में एबीसीडी-2 नाम की हिंदी फिल्म में पहली बार बड़े पर्दे पर दिखाई दिए। डांस इंडिया डांस लिटिल मास्टर -2 में उनकी अपनी टीम थे। राघव डांस के सुपरकिड्स में कप्तान रह चुके राघव विजेता भी बने। वह डांस इंडिया डांस के तीसरे सीजन के फाइनलिस्ट भी बने थे। अभी वह टीवी कार्यक्रम डांस दीवाने 3 सेट के होस्ट हैं। इन दिनों राघव जुयाल उत्तराखंड में कोरोना महामारी को देख डांस दिवाने शो 3 की शूटिंग छोड़ देहरादून आ गए। कोरियोग्राफर राघव जुयाल ने कहा कि कैरियर के रूप में डांस का चयन करना बेहद चैलेंज का काम है। मेहनत करते रहिए। आप जरूर सफल होंगे।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(बेहद दुःखद) जम्मू कश्मीर हादसे में उत्तराखंड का लाल भी हुआ शहीद
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments