Ad

उत्तराखंड- (Good News) पहाड़ की 3 लाख महिलाओं को इस योजना से घास के बोझ से मिलेगा छुटकारा

खबर शेयर करें -

देहरादून- पर्वतीय क्षेत्रों में सर पर घास रखकर कई किलोमीटर तक संघर्ष करने वाली महिलाओं के लिए यह अच्छी खबर है कि मुख्यमंत्री घर सारी कल्याण योजना में प्रदेश के 11 पर्वती जिले शामिल कर लिए गए हैं पहाड़ की 300000 महिलाओं को इस बोझ से छुटकारा मिलेगा।

अब तक 4 जिलों में चल रही इस योजना का विस्तार कर 11 जिलों को इस योजना के अंतर्गत शामिल कर लिया गया है। इस योजना के अंतर्गत पशुओं के लिए साइलेज का वितरण किया जा रहा था। सरकार ने पिछले साल 30 अक्टूबर को मुख्यमंत्री घर शादी कल्याण योजना की शुरुआत की थी। इसके अंतर्गत 4 जिले पौड़ी, रुद्रप्रयाग, अल्मोड़ा और चंपावत में 62 बहुद्देशीय प्रारंभिक कृषि ऋण समितियों के माध्यम से 75% अनुदान पर पशुओं के लिए साइलेज चारा वितरित किया जा रहा है।

सरकार की इस योजना से महिलाओं को मिनी 4 जिलों में बड़ी राहत मिली, लिहाजा योजना के विस्तार के लिए सहकारिता मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने राज्य के सभी पर्वतीय जिलों को इसमें शामिल करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए हैं। मंत्री धन सिंह रावत के मुताबिक अब योजना में 4 जिलों के अलावा पर्वतीय जिलों के साथ-साथ देहरादून व नैनीताल के पर्वतीय विकास खंडों को भी सम्मिलित किया गया है। उन्होंने कहा कि करीब 300000 महिलाएं इन जिलों में प्रतिदिन पशुओं के लिए खास कार्य का बोझ धोते हैं। अब उन्हें इस योजना के अंतर्गत गांव में ही पैक्ड़ साइलेज सुरक्षित हरा चारा और संपूर्ण मिश्रित आहार उपलब्ध होगा।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यहां युवक ने ऐसे ब्लैकमेल कर महिला से किया दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी देकर बनाता रहा शारीरिक संबंध
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments