Aknur Motors, Bindukhatta
यो आरी-पारी डूबी जाली थ्वाड़ दिनोंक बाद

हल्द्वानी-फिर आपको भाव-विभोर करने आ रहे लोकगायक बीके सामंत, नये साल पर रिलीज होगा ये गीत

Bansal Jewellers Ad - Khabar Pahad_Compressed
खबर शेयर करें
  • 61
    Shares

हल्द्वानी- लोकगायक बीके सामंत के थल की बाजार, यो मेरो पहाड़ और तू ऐ जाओ पहाड़ समेत कई गीतों से प्रदेश में ही नहीं पूरे भारत में धमाल मचा दिया। थल की बाजार गाना आज भी लोगों के शादी विवाद समारोह में जमकर बज रहा है। यही नहीं सामंत के यो मेरो पहाड़ गीत को प्रदेश सरकार ने खूब पसंद किया है। खुद सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने उनके गीत की तारीफ की। पर्यटन विभाग उनके गीत के माध्यम से अब पर्वतीय क्षेत्र की वादियों की खूबसूरती दिखाकर पर्यटकों को लुभाने का प्रयास कर रही है। अब उनका एक और गीत नये साल से पहले दिन रिलीज होगा। जो पंचेश्वर बांध पर आधारित है। यह गीत आपको भाव-विभोर कर देगा।

ankur motors ad

यह भी पढ़ें👉 इंडियन आइडल पर धमाल मचा रहे चंपावत के पवनदीप, ऐसे जीता जजों का दिल

लोकगायक बीके सामंत मात्र एक ऐसे लोकगायक है जिनके सभी गीत करोड़ों में है। सबसे ज्यादा प्यार उनके थल की बाजार को मिला जिसे अभी तक चार करोड़ से ऊपर लोग सुन चुके है। बीके सामंत ने उत्तराखंड की गायकी में अपना एक अलग की पहचान छोड़ दी। अपने गीतों से उन्होंने उत्तराखंड के संगीत को नया रूप दिया। उनके शब्दों में जहां एक ओर पहाड़ के लोगों को भाव-विभोर किया वहीं दूसरी ओर थिरकने को भी मजबूर कर दिया। एक बार फिर वह पंचेश्वर बांध पर आधारित गीत लेकर आ रहे है।

यह भी पढ़ें👉 हल्द्वानी-दुल्हा-दुल्हन की पहली पसंद बने लोकगायक इंदर के गीत, पढिय़े कैसे धमाल मचा रहा अब ये नया गीत

सामंत जैसा लोकगायक कई वर्षों की मेहनत के बाद उत्तराखंड को मिला है। तू ऐ जाओ पहाड़ के बाद एक गीत फिर से आपको भाव-विभोर कर देगा। कुछ सोचने को विवश करेगा। वह गीतों के माध्यम से ही नहीं बल्कि गढ़वाल कुमाऊं वारियर्स उत्तराखंड जैसी अपनी खास मुहिम से उत्तराखंड पिछले गांवों को रोशन करने में जुटे है। जिसमें वह बारी-बारी पहाड़ के गांव को गोद लेकर उनका उद्वार करेगे। ऐसा उत्तराखंड के इतिहास में पहली बार होगा जब कोई लोकगायक अपनी गायकी से ही नहीं बल्कि जमीनी हकीकत के साथ गांव की तस्वीर बदलता नजर आयेगा। खबर पहाड़ से खास बातचीत में सुपरस्टार लोकगायक बीके सामंत ने कहा कि आगामी एक जनवरी 2021 को उनका नया गीत उनके चैनल बीके सामंत के यू-ट्यूब चैनल श्रीकुंवर एंटरटेनमेंट पर रिलीज होगा।

यह भी पढ़ें👉 हल्द्वानी- ओ दाज्यू मैं छू पहाड़ी लोकगायक गोविंद ने अपनी गायकी से जीता दिल, DJ में थिरक रहे युवा

इस गीत के बोल है-

यो आरी-पारी डूबी जाली थ्वाड़ दिनोंक बाद
बडऩ-बडऩ देखा पंचेश्वर में बांध
को जालौ भाबर फिरी, को जालौ हल्द्वानी
ल्ही लाजा आंख्यू में सब भरी-भरी पाणी
यो गाडक़ पाणी, यो नौलक पाणी
कौलो हमूथै यो धारक् पाणी, पाणी पाणी पाणी..

यह भी पढ़ें👉 पहाड़ी वैवाहिक रस्मों में मुसकलों (संदेशवाहक), आंछत फरकैण रस्म व मंगलगीतों का है अपना महत्व

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 हमारे फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 हमें ट्विटर (Twitter) पर फॉलो करें

👉 एक्सक्लूसिव वीडियो के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

अंततः अपने क्षेत्र की खबरें पाने के लिए हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Ad-Website-Development-Haldwani-Nainital
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x