Ad

उत्तराखंड- यहां स्कॉट सर्विस नाम का व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर चला रहे थे सेक्स रैकेट, ऐसे पकड़े गए

खबर शेयर करें

देहरादून– पुलिस को बड़ी सफलता मिली है, पुलिस की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट देहरादून ने देह व्यापार का भंडाफोड़ कर एक महिला समेत गिरोह के 2 सदस्यों को किया गिरफ्तार। स्विफ्ट कार जप्त अन्य राज्यों की दो पीड़िताओं को छुड़ाया है।मौके से भारी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई है। पकड़े गए गिरोह के सदस्य व्हाट्सएप पर एस्कॉर्ट सर्विस नाम से ग्रुप चला कर देह व्यापार के धंधे को दे रहे थे अंजाम। गरीबी का फायदा उठाकर तथा नौकरी का झांसा देकर महिलाओं को इस धंधे में धकेल रहे थे पकड़े गए अपराधी।

विस्तार से पढ़ें पूर्ण घटनाक्रम–
पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय जनपद देहरादून द्वारा जनपद में अनैतिक व्यापार से संबंधित अपराधों पर प्रभावी अंकुश लगाए जाने हेतु एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट देहरादून को निर्देशित किया गया हैं।

निर्देशों के अनुपालन में पुलिस अधीक्षक अपराध के पर्यवेक्षण एवं क्षेत्राधिकारी नेहरू कॉलोनी के नेतृत्व में AHTU देहरादून टीम द्वारा कार्रवाई करते हुए दिनांक 24 मार्च की शाम को मुखबिर की सूचना पर झील पुल के पास क्लिमेंटाउन में चेकिंग के दौरान अनैतिक व्यापार के अपराध में संलिप्त गिरोह के सदस्य एक महिला व एक पुरुष को स्विफ्ट कार सहित अनैतिक व्यापार हेतु पीड़ित महिलाओं को ले जाते हुए किया गया गिरफ्तार। अभियुक्त गणों के पास से आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई है। अभियुक्त गण के चंगुल से अन्य राज्य दिल्ली की 02 पीड़ितों को छुड़ाया गया। अभियुक्त गण के विरुद्ध थाना क्लेमेंट टाउन पर अनैतिक व्यापार निवारण अधिनियम व आईपीसी के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत कराया गया अभियुक्तगण को आज माननीय न्या न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया।

पीड़ित महिलाओं द्वारा पूछताछ में बताया कि अभियुक्तगण उनको नौकरी का झांसा देकर एवं गरीबी का फायदा उठाकर अनैतिक व्यापार के धंधे में लगा देते हैं। दिल्ली व अन्य जगह से लाकर वाहनों से अलग-अलग जगह ले जाते हैं आज हमें यह लोग सेलाकुई से देहरादून ले जा रहे थे पीड़ित महिलाएं मूल रूप हरियाणा व मध्य प्रदेश की रहने वाली हैं और वर्तमान में दिल्ली राज्य की निवास कर रही हैं।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) राजकीय इंटर कॉलेजों में प्रधानाचार्य के रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया अपडेट
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- स्कूली बसों व वैन में लगेगा GPS! कंट्रोल रूम से होगी आपके बच्चों की निगरानी


अभियुक्त सचिन कुमार ने पूछताछ मैं बताया कि वह पिछले कई वर्ष से अनैतिक व्यापार के कार्य में लिप्त है पूर्व में वह गुड़गांव में रहकर अभियुक्ता पूजा पांडे के साथ देह व्यापार का धंधा करता था उसके बाद वह देहरादून आ गया और अभी अभिषेक नाम के व्यक्ति के साथ अन्य राज्य से लड़कियों की सप्लाई कर उनसे देह व्यापार का कार्य करवाते है ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- फ्री राशन पात्रता की तस्वीर साफ, जानिए नियम- सिर्फ इन्हें मिलेगा राशन, नही तो..

यह लोग व्हाट्सएप के माध्यम से दिल्ली व देश के अन्य राज्यों में अलग-अलग एस्कॉर्ट सर्विस के नाम से गिरोह चलाते हैं व व्हाट्सएप पर ग्राहकों से सौदा कर दिल्ली से वाहनों के माध्यम उन्हें होटलों में ठहराते हैं और ग्राहकों की इच्छा अनुसार अलग-अलग जगह छोड़ते हैं, आज भी यह पीड़ित महिलाओं को लेकर को क्लिमेंट टाउन झील के पास से होते हुए ग्राहकों के पास जा रहे थे, की पुलिस द्वारा इनको पकड़ लिया गया।


अभियुक्त सचिन कुमार व पूजा पांडे के मोबाइल की जांच करने पर पाया की इनके द्वारा देश के विभिन्न राज्यों के नाम से एस्कॉर्ट सर्विस आदि ग्रुप बनाए गए हैं इस पर अभियुक्त सक्रिय रूप से कार्य करते रहते हैं।

Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments