आदमखोर गुलदार ने 24 घंटे के अंदर दूसरी घटना को दिया अंजाम

उत्तराखंड -(दुखद) आखिर कब रुकेगा यह सिलसिला, 13 वर्षीय किशोर को गुलदार ने मार डाला

खबर शेयर करें -

Tehri Garhwal News: उत्तराखंड में मानव वन्यजीव संघर्ष रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं यही वजह है कि आए दिन पहाड़ के किसी न किसी कोने में जंगली जानवरों का कोई न कोई शिकार हो रहा है। पिछले दो-तीन सालों में पर्वतीय इलाकों में बाग और गुलदार ने दर्जनों लोगों को अपना निवाला बनाया है ।खासकर मासूम बच्चे इसके शिकार बने हैं अब तक मानव वन्यजीव संघर्ष रोकने के लिए वन विभाग सिर्फ किताबी ज्ञान और खानापूर्ति करता आया है। यही वजह है कि इन घटनाओं में रोक लगने के बजाय मानव वन्यजीव संघर्ष की घटनाएं बढ़ी हैं और इसका खामियाजा मासूम लोगों को उठाना पड़ रहा है ।ऐसी ही खबर टिहरी गढ़वाल से आई है जहां एक बार फिर 13 वर्षीय मासूम को गुलदार ने मार डाला।

उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल जिले से दुखद खबर सामने आ रही है यहां टिहरी में भिलंगना ब्लॉक के बाल गंगा क्षेत्र के अन्तर्गत रविवार की रात गुलदार ने 13 साल के एक किशोर को निवाला बना लिया।देर रात दो बजे किशोर का शव जंगल से बरामद किया गया। घटना से मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया है वहीं गांव में दहशत व्याप्त है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक बीती देर शाम मयकोट गांव में दोस्तों के सात खेलने के बाद घर लौट रहे 13 वर्षीय अरनव चंद पुत्र रणवीर चंद ग्राम मयकोट निवासी को गुलदार उठा कर ले गया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-(बड़ी खबर) आखिरकार ध्वस्त हुए अवैध निर्माण, बनभूलपुरा में यही हुआ था विरोध
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) महीने में एक दिन बच्चे बिना बैग के जायेंगे स्कूल

रात को जब अरनव घर नहीं पहुंचा तो उसकी तलाश की गई। अंधेरा होने के कारण वन विभाग व राजस्व विभाग के संयुक्त सर्च ऑप्रेशन के बाद रात दो बजे मृतक बालक का शव घर से एक किमी दूर जंगल में झाड़ियों से बरामद किया है। घटना के बाद से ग्रामीणों में वन विभाग के प्रति भारी आक्रोश है, ग्रामीणों ने गुलदार के आंतक से निजात दिलाने की मांग की है ।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

[wp-post-author]

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments