Ad

उत्तराखंड- (गजब) फर्जी नियुक्ति पत्र लेकर अधिकारी बनने पहुंची महिला, ऐसे खुल गया राज

खबर शेयर करें

चंपावत- फर्जी नियुक्ति पत्र के सहारे डीपीओ की कुर्सी पाने वाले मामले में चंपावत कोतवाली में प्रभारी डीपीओ आरपी बिष्ट ने मामला दर्ज करा दिया है। दरअसल एक महिला डीपीओ का नियुक्ति पत्र लेकर जिला कार्यक्रम विभाग कलक्ट्रेट पहुंची थी। तब पत्र पर जरूरी कार्रवाई के लिए सीडीओ को लिखा गया था।

निदेशालय से पत्र के फर्जी होने की पुष्टि होने के बाद शनिवार को पूरे वाकये का पता चला। महिला ने अपने लिए आवास आवंटन करने के लिए भी कहा। कार्यालय के लिपिक ने उनसे नियुक्ति पत्र मांगा। संदेह होने पर उसने निदेशालय फोन किया तो वहां से किसी भी तरह की नियुक्ति से इनकार किया पास रख लिए हैं।

प्रभारी डीपीओ आरपी बिष्ट ने महिला से सीडीओ कार्यालय चलने को कहा तो महिला कार में बैठकर भाग निकली। महिला के साथ तीन और लोग थे। यह महिला 19 जुलाई को फर्जी नियुक्ति पत्र के साथ कलक्ट्रेट भी पहुंची थी।

महिला को 39 किमी दूर चल्थी पुलिस चौकी ने दबोचा। चौकी प्रभारी देवेंद्र सिंह बिष्ट सहित कई पुलिस अधिकारियों ने पांच घंटे से लंबी पूछताछ की। एसपी देवेंद्र पींचा ने बताया कि पूछताछ के बाद महिला को शनिवार शाम छोड़ दिया गया है। अलबत्ता उनके दस्तावेज पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिए थे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-यहां कार और बस की भिड़ंत, त्यौहार के दिन मची चीख पुकार
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(दुःखद) करंट लगने से मां-बेटी की दर्दनाक मौत, परिवार में मचा कोहराम

जांच अधिकारी एसएसआई देव गोस्वामी ने बताया कि महिला पर 420 467 468 धारा में मामला दर्ज किया गया है मामले की जांच की जा रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार महिला की माता भी देहरादून महिला एवं बाल विकास कार्यालय में तैनात है उसे जॉइनिंग लेटर भी सचिवालय में तैनात एक कर्मचारी ने दिया था।

Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments