हल्द्वानी- चुनाव के बाद पुराने अंदाज में हरीश रावत, कहीं सेक रहे टिक्की तो कही बन मख्खन

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी- मीडिया में सुर्खियां बनना हरीश रावत की एक अलग कला है, कभी जलेबी बनाना तो कभी कबड्डी खेलना या फिर बल्ला पकड़ के राजनीति करना, हरीश रावत की सुर्खियों में आने की सियासी नब्ज बड़ी मजबूत है। चुनाव से पहले हो या चुनाव के बाद हरीश रावत लगातार सुर्खियों में रहते हैं, उत्तराखंड में चुनाव से पहले फ्रंट फुट में बैटिंग कर रहे हरीश रावत मतदान समाप्त होने के बाद भी प्रदेश में सुर्खियों में हैं क्योंकि उन्हें मीडिया की सुर्खियों में छाए रहने का अंदाज आता है।

इन दिनों हरीश रावत इसलिए सुर्खियों में हैं क्योंकि मतदान समाप्त होने के बाद भी हरीश रावत नतीजों से पहले एक के बाद एक घोषणा करते जा रहे हैं, मतदान के 3 दिन में बैक टू बैक हरीश रावत 3 घोषणाएं कर चुके हैं जिसमें घसियारी महिलाओं को पेंशन देने की योजना हो या फिर मंगल गीत गाने वाले महिलाओं को अट्ठारह सौ रुपए पेंशन की बात कही हो या फिर ठीक तीसरे दिन हरीश रावत ने मुंडन संस्कार करने वाले पुरोहितों के लिए भी पेंशन की घोषणा की हो नतीजे आने से पहले ही हरीश रावत की घोषणा को जहां मुख्यमंत्री धामी मुंगेरीलाल के हसीन सपने बता रही है तो वही अपनी खुद की पार्टी के नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह और कार्यकारी अध्यक्ष रंजीत रावत तो द्वारिका प्रसाद माहेश्वरी की कविता में हरीश रावत का वर्णन कर रहे हैं कार्यकारी अध्यक्ष रंजीत रावत ने कहा कि हरीश रावत सोचते हैं कि यदि मैं होता किन्नर नरेश तो राज महल में सोता, सोने का सिहासन होता सर पर मुकुट चमकता….

एक साथ सभी को साध कर मीडिया की लगातार सुर्खियां बन कर हरीश रावत अब फिर से पुराने अंदाज में है। गुरुवार को हरीश रावत एक कार्यक्रम में लोगों को टिक्की खिलाते हुए दिखाई दिए, तो हल्द्वानी में वहीं दूसरी तरफ चाय की दुकान में 1 मक्खन खिलाते नजर आए इससे पूर्व हरीश रावत हल्द्वानी में जलेबी बनाते नजर आए थे तो बिंदुखत्ता में कबड्डी खेल कर विरोधियों को चित कर रहे थे। कुल मिलाकर हरदा से हरीश रावत तक इन दिनों सियासत के केंद्र बने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत विपक्ष ही नहीं अपनी पार्टी में भी चर्चा का विषय बने हुए हैं। हालांकि उत्तराखंड में हुए मतदान का रिजल्ट 10 मार्च को आएगा लेकिन हरीश रावत द्वारा की जा रही एक के बाद एक घोषणा आने वाले दिनों में कांग्रेस के लिए प्रेशर पॉलिटिक्स का काम करेगी।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-(बड़ी खबर) अभिभावकों हो जाओ सावधान! अपने नाबालिग बच्चों को न दें बाइक, स्कूटी..नही तो ......
यह भी पढ़ें 👉  शाबास भुलीः हल्द्वानी की मौलिका को ब्रिटेन की महारानी ने दिया ये खास सम्मान, दुनियां में हो रही वाहवाही

About Post Author

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

WP Post Author

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments