Shemford School Haldwani
haldwani police jayguru

हल्द्वानी-(बड़ी खबर) जय गुरु ज्वेलर्स स्वामी से 50 लाख की रंगदारी मामला, पुलिस ने किया खुलासा, जानिए रंगदारी के पीछे किसका था हाथ

Bansal Sarees & Bansal Jewellers Ad
Advertisement
खबर शेयर करें

हल्द्वानी- हल्द्वानी पुलिस ने जय गुरु ज्वेलर्स की स्वामी रीता खंडेलवाल से 50 लाख की फिरौती मांगने के मामले में खुलासा करते हुए 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है पुलिस जांच में जेल की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े हुए हैं क्योंकि फिरौती के लिए फोन जेल के अंदर से आया था, लिहाजा 4 दिन के भीतर हल्द्वानी पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए परत दर परत केस को खोला है।

यह भी पढ़े 👉.देहरादून- सहायक लेखाकार और सचिवालय सुरक्षाकर्मियों के पदों पर भर्ती की यह चल रही है तैयारी, हो जाइए तैयार

पूरे मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने बताया कि 1 जनवरी को जय गुरु ज्वेलर्स की स्वामिनी रीता खंडेलवाल द्वारा पुलिस को शिकायत दर्ज कराई गई थी कि उनके मोबाइल फोन पर कॉल करके किसी दल्लू नाम के व्यक्ति द्वारा 5000000 की फिरौती मांगी गई है। और फिरौती न देने पर पीड़िता और उसके बच्चों को जान से मारने की धमकी भी दी गई है जिसके बाद पुलिस ने तत्काल मामले में मुकदमा दर्ज कर पुलिस क्षेत्राधिकारी हल्द्वानी भूपेंद्र सिंह धोनी के पर्यवेक्षण में एसओजी की संयुक्त टीमों का गठन किया और जांच शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें 👉  चर्चित लेखक व वरिष्ठ PCS अधिकारी ललित मोहन रयाल की नई पुस्तक जल्द पाठकों के बीच

यह भी पढ़े 👉.BREAKING NEWS- नैनीताल में हुई बर्फबारी, सामने आए सीजन के पहले बर्फबारी की ताजा तस्वीरें, देखिए एक क्लिक में

पुलिस ने जब फिरौती के लिए आने वाले कॉल नंबर को ट्रेस किया तो वह नंबर घटना के समय केंद्रीय कारागार सितारगंज यानी सितारगंज जेल में एक्टिव पाया गया जिसके बाद से पुलिस ने अपनी जांच और तेज कर दी प्रारंभिक पूछताछ में पता चला कि यह नंबर दुर्गा प्रसाद निवासी रुद्रपुर के नाम पर दर्ज है जब उनसे पूछताछ की गई तो उन्होंने इस नंबर के प्रयोग के बारे में बताया कि उन्होंने इस नंबर को कभी प्रयोग नहीं किया जांच में यह पता चला कि यह सिम महेंद्र गंगवार और नरेंद्र गंगवार छतरी लगाकर सिम बेचने का काम करते थे इन्होंने अपने दोस्त दीपक राठौर को दिया और दीपक राठौर का भाई राहुल राठौर जो कि पहले से हत्या के मुकदमे में आजीवन कारावास की सजा के लिए दंडित हुआ है सितारगंज सेंट्रल जेल में बंद है उस तक पहुंचाया और राहुल राठौर जेल में बंद होकर अपना वर्चस्व बढ़ाने के लिए प्रभावशाली वह पैसे वाले लोगों से रंगदारी वसूलने की योजना बनाने लगा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यहां पौने दो साल की मासूम खेलते खेलते ऐसे छत से गिरी, परिजनों में कोहराम

यह भी पढ़े 👉.उत्तराखंड- वेब सीरीज में दमदार एक्टिंग के बल पर उत्तराखंड को दिला रहे नई पहचान, जानिए पहाड़ से निकले इस एक्टर की कहानी

पुलिस द्वारा जांच में यह भी बताया गया इसके लिए राहुल राठौर ने अपनी महिला मित्र अंकिता पत्नी धीरेंद्र कुमार और अंजलि उर्फ अंजू पत्नी अजय रस्तोगी जो कि जेल मैं मिलने आते जाते रहते थे एक फर्जी सिम की व्यवस्था करने की जिम्मेदारी दी थी इसके लिए अपने भाई दीपक राठौर की मदद लेने के लिए भी कहा जिसके बाद अंकिता और अंजलि ने दीपक राठौर से संपर्क किया और जेल में बंद राहुल राठौर की योजना के बारे में बताया तो दीपक ने अपने मित्र महेंद्र और नरेंद्र जो कि सिम कार्ड बेचने का काम करते थे उनसे दुर्गा प्रसाद का नंबर पोर्ट करने के बहाने उनकी आईडी का इस्तेमाल करते हुए स्कैन करा कर ले लिया और जेल में जाकर राहुल राठौर को दे दिया।

यह भी पढ़े 👉.हल्द्वानी-लोकगायक महेश की ‘धमेली’ गीत ने मचाया धमाल, आप भी लीजिए आनंद

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- ICSC, ISC के 10वीं और 12वीं के रिजल्ट इस तारीख को, यहां जाकर करें रिजल्ट चेक

जिसके बाद जेल से ही राहुल राठौर द्वारा हल्द्वानी जय गुरु ज्वेलर्स की स्वामी रीता खंडेलवाल के फोन पर 5000000 की फिरौती मांगी और उसके बाद सिम और मोबाइल को जेल परिसर में ही नष्ट कर दिया इस पूरी घटना को अंजाम देने वाले आरोपी दीपक राठौर, महेंद्र सिंह गंगवार, नरेंद्र सिंह गंगवार और अभियोक्ता अंजलि और अंकिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और सितारगंज जेल में पहले से बंद राहुल राठौर को रिमांड में लेने की कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़े 👉.BREAKING NEWS- उत्तराखंड में कांग्रेस की कोआर्डिनेशन कमेटी का गठन, इन दिग्गजों को मिली जिम्मेदारी

5000000 की फिरौती मांगने के मामले में एक बार फिर से सितारगंज जेल की सुरक्षा पर सवाल खड़े हुए हैं पुलिस के खुलासे ने इस बात पर मुहर लगाई है कि आखिर जेल के भीतर कैदी के पास सिम और मोबाइल कैसे पहुंच गया लिहाजा एसएसपी का कहना है कि अभी इस पूरे मामले में जांच की जा रही है धीरे-धीरे इसका भी खुलासा होगा।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments