उत्तराखंड- यहां यूनिवर्सिटी के छात्र ने ऐसे उठा लिया आत्मघाती कदम, मचा हड़कंप

खबर शेयर करें -

पंतनगर- कृषि विश्विद्यालय पंतनगर के बीटेक के छात्र ने अज्ञात कारणों के चलते अपने छात्रावास विश्वेसरैया भवन में पंखे की कुंडी से लटक कर आत्मघाती कदम उठा लिया। जैसे ही हादसे की जानकारी विश्विद्यालय प्रशासन को मिली तो हड़कंप मच गया।

जानकारी के मुताबिक धामपुर बिजनौर (यूपी) निवासी शिवांश चौहान जीबी पंत कृषि विश्वविद्यालय के प्रौद्योगिकी महाविद्यालय में बीटेक (विद्यृत अभियांत्रिकी) विभाग में चतुर्थ वर्ष का छात्र था। विवि में अवकाश समाप्त होने के बाद बीते सोमवार दोपहर ही वह अपने घर से विवि के विश्वेसरैया भवन छात्रावास में वापस लौटा था। आज शाम पांच बजे चाय पीने के लिए साथी शिवांश को बुलाने उसके कमरे में पहुंचे तो दरवाजा अंदर से बंद था। काफी शोर मचाने के बाद जब दरवाजा नहीं खुला तो छात्रों ने छात्रावास में मौजूद सुरक्षा कर्मियों को बुलाकर बमुश्किल दरवाजा खोला।

शिवांश बेडशीट के सहारे पंखे से झूलता हुआ मिला। जिसके बाद छात्रों और सुरक्षाकर्मियों ने उसे नीचे उतार अस्पताल पहुंचाया जहां डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। जिसके बाद पुलिस व उसके परिजनों को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए पोटमोर्टम के लिए भेज दिया है। जानकारी के मुताबिक मृतक ने कुछ दिन पूर्व कैंपस में प्लेसमेंट के लिए आई कंपनी में साक्षात्कार दिया था। जिसमें उसका चयन नहीं हो पाया जिसको लेकर वह डिप्रेशन में चल रहा था।

पंतनगर इंस्पेक्टर राजेंद्र सिंह डांगी ने बताया की देर शाम साढ़े पांच बजे पंतनगर विश्विद्यालय के छात्र द्वारा सुसाइड करने की सूचना मिली थी। मामले में शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक के कमरे को कल परिजनों के सामने खोल कर जांच की जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः (बड़ी खबर)- गौला नदी के किनारे मिली युवक की लाश, शरीर पर धारदार हथियार के निशान
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहां नहीं जला रावण का पुतला, राम-लक्ष्मण को स्टेडियम में नहीं मिली एंट्री!

About Post Author

Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

WP Post Author

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments