Shemford School Haldwani

उत्तराखंड- रोडवेज बसों का किराया बढ़ा, जानिए नया किराया

Bansal Sarees & Bansal Jewellers Ad
Advertisement
खबर शेयर करें
  • 271
    Shares

हल्द्वानी– राज्य से पंजाब जाने वाले यात्रियों की जेब ढीली होगी। उत्तराखंड परिवहन निगम ने टोल टैक्स में बढ़ोतरी होने से पंजाब मार्ग में चलने वाली बसों का किराया बढ़ाया है। उत्तराखंड रोडवेज से पहले पंजाब रोडवेज/हरियाणा रोडवेज/उत्तरप्रदेश परिवहन निगम समेत कई निगम टोल टैक्स में हुई बढ़ोतरी के बाद किराया बढ़ा चुके हैं। उत्तराखंड परिवहन निगम ने टोल टैक्स का बोझ कम करने के लिये किराया बढ़ाने का फैसला किया है। बता दें कि उत्तराखंड रोडवेज कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन की वजह से घाटे में चल रहा था। उस दौरान बसों का संचालन लंबे वक्त तक बंद था। 22 मार्च के बाद जून के आखिरी सप्ताह में बसों का संचालन केवल उत्तराखंड के अंदर कुछ ही जिलों के लिए शुरू किया गया था। अक्टूबर में बसों के संचालन को दूसरे राज्यों के लिए भी शुरू किया गया था।

यह भी पढ़े 👉हल्द्वानी- भाजपा पार्षद गिरफ्तार, मेयर और दर्जा मंत्री कोतवाली में बैठे धरने पर, इस अधिकारी को हटाने की मांग

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- टोक्यो ओलंपिक से भारत के लिए खुशखबरी, जीता पहला पदक
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(अच्छी खबर) राज्य के 7 जिलों में एक भी पॉजिटिव मामला नहीं, देखिए कोरोना की आज की ताजा अपडेट

नया किराया कुछ इस प्रकार रहेगा


जालंधर वाया बाजपुर कि.मी.633 / किराया पूर्व में 765 वर्तमान में 815
लुधियाना वाया रामनगर किलोमीटर-559, किराया 670 वर्तमान में 720

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) शिक्षा महकमे से बड़ी खबर, 303 अध्यापकों का प्रमोशन, बने प्रधानाध्यापक देखिए लिस्ट

चंडीगढ़ वाया रामनगर किलोमीटर 495,पूर्व किराया 590 नया किराया 655
अंबाला किलोमीटर -443,पूर्व किराया -520 नया किराया-570
सहारनपुर किलोमीटर 355 ,पूर्व किराया -440 नया किराया 470

यह भी पढ़े 👉देहरादून- राज्य में कई आईएएस अधिकारियों के तबादले, कई जिलों के जिलाधिकारी बदले

यह भी पढ़े 👉हल्द्वानी- भतीजी की शादी में गया था परिवार, चोरों ने घर ऐसे कर दिया साफ

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments