उत्तराखंड मूल के दंपत्ति ने देशभर में बढ़ाया पहाड़ का मान, पर्वतीय फलों से बनाया इमन्युटी बूस्टर सिरप

Ad - Bansal Jewellers
खबर शेयर करें

लखनऊ- लखनऊ में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में आयोजित सहकार भारती के सातवें राष्ट्रीय अधिवेशन में पर्वतीय क्षेत्रों के फलों से तैयार किया गया इम्यूनिटी बूस्टर सिरप पूरे देश के वैज्ञानिकों एवं वरिष्ठ राजनेताओं ने सबसे अधिक पसंद किया। साथ ही इस प्रकार के जूस को प्रोत्साहन देने का संकल्प भी लिया।


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में लखनऊ में आयोजित अखिल भारतीय सहकार भारती के तीन दिवसीय अधिवेशन का केन्द्रीय सहकारिता एवं गृह मंत्री अमित शाह के द्वारा उद्घाटन किया गया। इस अधिवेशन में उत्तराखंड सहकार भारती के राज्य प्रभारी अमरनाथ तिवारी सहित प्रतिनिधि मंडल के कई सदस्य सम्मिलित हुए। इस अवसर पर फूड एंड टेक्नोलॉजी के जाने माने विशेषज्ञ और उद्योगपति एमपी भट्ट ने सहकार भारती की सहायता से उत्तराखंड में छोटे उधमो को कैसे लगाएं और प्रोत्साहित करें विषय पर अपने अनुभव साझा किए।


इस मौके पर स्टाल नंबर 121 में एमपी भट्ट की यूनिट एमसीबी एग्रोटेक प्राइवेट लिमिटेड के न्यूट्रैयूटिकल एंड इम्युनिटी बूस्टर प्रोडक्ट्स को देखकर लोग दंग रह गए। तथा उक्त इम्यूनिटी बूस्टर सिरप को सबसे अधिक पसंद किया गया। कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर एमपी भट्ट ने बताया कि यह इम्यूनिटी बूस्टर सिरप पर्वतीय क्षेत्रों मैं पैदा होने वाले फलों से तैयार किया जा रहा है। इस प्रकार के कई फ्लेवर में विभिन्न इम्यूनिटी बूस्टर सिरप उनके द्वारा बनाए जा रहे हैं जिन पर्वतीय फलों से वह जूस बनाते हैं उनमें (लेमन) जिसको गलगल भी कहते हैं इसमें विटामिन सी की मात्रा बहुत अधिक होती है, और इसका सेवन ठंड के समय अत्यधिक लाभप्रद है।


देहरादून और रामनगर में पैदा होने वाली लीची, माल्टा, खुमानी, पुलम, सेव, पहाड़ का टमाटर जिसमें लाइकोपीन की परसेंटेज बहुत अधिक होती है, से वह इम्यूनिटी बूस्टर सिरप का निर्माण कर रहे हैं जिसकी देश विदेशों में अत्यधिक डिमांड है इसके अलावा उनके द्वारा हर्बल के क्षेत्र में भी अत्यधिक कार्य किया जा रहा है पर्वतीय क्षेत्रों के 9 जड़ी बूटियों से वह पौष्टिक ड्रिंक का निर्माण कर रहे हैं। जिसमें काला जीरा, दालचीनी, एलोवेरा, छोटी इलायची, काली मिर्च, अदरक, केसर, शुद्ध शिलाजीत, और लॉन्ग कम मात्रा में प्रयोग करते हैं इन वस्तुओं से बना ड्रिंक अत्यधिक इम्यूनिटी युक्त एवं पौष्टिक होता है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) हरदा ने दिया बड़ा बयान, हरक की मुश्किलें बड़ी
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-(बड़ी खबर)- चारा लेने गया युवक गुलदार का बन गया निवाला, मचा हड़कंप


मौजूद अतिथियों को एमपी भट्ट ने बताया कि विगत कई वर्षों से वह अपने उत्तरांचल में उगने वाले बहुत सारे हर्बल को बेस मानकर पौष्टिक Imunity बूस्टर सिरप का निर्माण कर रहे हैं l बहुत सारी कंपनी इसको concentrate form me प्रोडक्ट दे bhi रहे हैं। तीन दिवसीय उक्त राष्ट्रीय संगोष्ठी के दौरान पर्वतीय फलों एवं पर्वतीय जड़ी बूटियों से बने सिरप का शेवन कर बड़े-बड़े राजनेता भी गदगद हो गए। तथा पूरे अधिवेशन में उन्होंने देवभूमि उत्तराखंड को पोस्टिक खनिज तत्वों की खान बताया। तथा एमसीबी एग्रोटेक प्राइवेट लिमिटेड की खूब सराहना की। यही नहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी एमपी भट्ट की पीठ थपथपाई।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- हल्द्वानी में आचार सहिता में चली गोली, 4 घायल, मचा हड़कंप

मूल रूप से उत्तराखंड के जनपद टिहरी निवासी एमपी भट्ट द्वारा लालकुआं विधानसभा क्षेत्र के गौलापार में भी जमीन खरीद कर इस प्रकार का उद्योग लगाने का निर्णय लिया है। ताकि पर्वतीय फलों की खपत हल्द्वानी मंडी से ही उनके उद्योग में हो जाए उन्होंने कहा कि वह खराब हो चुके फलो से भी गुणवत्ता युक्त औषधि निकाल लेते हैं। इसलिए पर्वतीय फलों के खराब होने पर भी स्थानीय युवा उससे मोटा मुनाफा कमा सकते हैं। तथा क्षेत्र के बेरोजगारों को रोजगार एवं पूरे देश में उत्तराखंड के फलों के इम्यूनिटी बूस्टर सिरप की मजबूत पकड़ पहुंचाने का निश्चय कर चुके हैं। इस व्यवसाय में उनकी धर्मपत्नी पुष्पा भट्ट भी बराबर की सहयोगी है। कुछ वर्ष पूर्व उन्हें भारत की सशक्त महिलाओं में आठवां नंबर हासिल हुआ था। समाज सेवा के क्षेत्र में पुष्पा भट्ट का नाम अग्रणीय है, वह तमाम कार्यक्रमों में देश विदेशों में भागीदारी करती रहती हैं।

Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments