उत्तराखंड- एक पटाखें के लिए कर दी गयी हत्या, पुलिस ने ऐसे खोला पूरा मामला

खबर शेयर करें -

रुद्रपुर। पटाखा फोड़ने को लेकर मेट्रोपोलिस रुद्रपुर में हुए हत्याकांड का उधम सिंह नगर पुलिस ने खुलासा किया है। इस मामले में पांच आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं आरोपियों के पास हमले में प्रयोग लाई गई कार भी बरामद कर ली गई है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने आज इस मामले का खुलासा किया बताया कि विगत 25 अक्टूबर को चौकी सिडकुल पर सूचना प्राप्त हुई कि मेट्रोपोलिस गेट नं. 1 के पास एक व्यक्ति को कुछ लोगों द्वारा गोली मार दी गई है। सूचना पर चौकी सिडकुल व थाना पंतनगर से पुलिस द्वारा तत्काल मौके पर जाकर जांच की गई तो पाया कि रात्रि समय करीब 12.45 बजे 10-12 लोगों द्वारा एक व्यक्ति के साथ लाठी डंडों से मारपीट की गई तथा उसे गोली मारी गई है। घटना में घायल व्यक्ति के बारे में मालूमात किया तो पता चला कि घायल का नाम दलजीत पुत्र गुरचरन सिंह निवासी ग्राम दुरजनपुर, बिलासपुर जिला रामपुर, उ.प्र. है तथा उसके पेट में गोली लगी हैं। घायल दलजीत की स्थिति बडी गंभीर थी, जिसे उसके परिजन इलाज हेतु गौतम हॉस्पिटल, अमृत, मेडिसिटी हॉस्पिटल तथा फिर हायर सेन्टर राममूर्ति अस्पताल, बरेली ले गए। जहाँ उपचार के दौरान उसकी मृत्यु हो गई।

मृतक दलजीत सिंह की हत्या के सम्बंध में उसके भाई नरेन्द्र सिंह ने गुरवीर सिंह, कंवल सिंह, प्रभजोत सिंह, जतिन, अमन, मुकुल बत्रा व 5-6 अज्ञात व्यक्तियों के विरुद्ध थाना पंतनगर में एफआईआर नं0 203/22 धारा 147, 148, 149, 302, 34, 120बी आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया।

रुद्रपुर शहर की पॉश कॉलोनी मेट्रोपोलिस सोसायटी में इस प्रकार की गई दुस्साहसिक घटना की संवेदनशीलता के दृष्टिगत अनावरण हेतु एसएसपी डॉ. मंजूनाथ टीसी द्वारा एसपी सिटी, एसपी क्राइम, के पर्यवेक्षण में सीओ सिटी, सीओ पंतनगर, सीओ ऑपरेशन के नेतृत्व में थाना पंतनगर, चौकी सिडकुल थाना रुद्रपुर, थाना दिनेशपुर, थाना पुलभट्टा, थाना किच्छा, थाना ट्रांजिट कैम्प व एसओजी से 07 टीमों का गठन किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(अभी अभी) पहाड़ के इस इलाके में दर्दनाक सड़क हादसे की खबर, SDRF और पुलिस दौड़ पड़ी घटना स्थल की तरफ
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-(बड़ी खबर) सीबीआई की टीम ने इस अधिकारी को किया गिरफ्तार

जांचोपरान्त पाया गया कि दीपावली की रात्रि में पटाखे जलाने की मामूली बात को लेकर उपजे विवाद के कारण मृतक दलजीत व प्रतिवादीगण के बीच आपसी कहासुनी हो गई, जिसके फलस्वरुप प्रतिवादीगण द्वारा योजनाबद्ध तरीके से अपने साथियों को इकट्ठा किया गया तथा दलजीत सिंह को सोसायटी के गेट पर बुला लिया। गेट पर गुरवीर व उसका भाई कंवल सिंह व उसके दोस्त दलजीत पर टूट पड़े तथा लाठी डंडों से दलजीत के साथ मारपीट की। बचने के लिए दलजीत गेट से अंदर की और भागा तो गुरवीर व उसके साथी भी उसके पीछे दौड़े। इसी बीच गुरवीर सिंह ने अपने नाजायज पिस्टल से दलजीत के ऊपर तीन राउंड फायर किये जिसमें एक गोली दलजीत की कमर में लगकर पेट में फँस गई। घटना के बाद गुरवीर व उसके साथी मौके से निकल भागे। गोली लगने से दलजीत गंभीर रूप से घायल हो गया तथा दौराने उपचार बरेली में राममूर्ति अस्पताल में उसकी मृत्यु हो गई।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) धामी सरकार में एक और अधिकारी पर गिरी गाज, वित्तीय अनियमितताओं में ऐसे नप गए

26 अक्टूबर को पुलिस को सूचना मिली कि घटना में शामिल गुरवीर सिंह, कंवल सिंह, प्रभजोत सिंह, अमन, जतिन मुरादाबाद से पंजाब होते हुए विदेश भागने वाले हैं। जिस पर पुलिस टीम द्वारा सूचना के आधार पर गुरवीर सिंह, कंवल सिंह, प्रभजोत सिंह, अमन, जतिन को मुरादाबाद रेलवे स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया। दौराने पूछताछ अभियुक्त गुरवीर सिंह की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त पिस्टल, घटना में प्रयुक्त टाटा सफारी गाड़ी भी बरामद की गई हैं।

About Post Author

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

WP Post Author

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments