Shemford School Haldwani
युवकों

उत्तराखंड- यहां चार दोस्तो की मौत का हुआ खुलासा, जानकर हो जाएंगे हैरान

Bansal Sarees & Bansal Jewellers Ad
खबर शेयर करें

उत्तराखंड के टिहरी जिले में घनसाली इलाके के दूरस्थ कुंडी गांव के शिकार पर गए 7 दोस्तो में चार दोस्तों की मौत के मामले में खुलासा हो गया है गांव में मौत के कारण का पता लगने के बाद हर कोई हैरान है कि आखिर कैसे कोई ऐसा कदम उठा सकता है दरअसल शनिवार की रात को शिकार करने के लिए के कुंडी गांव के 7 युवकों में चार युवकों की मौत हो गई थी जबकि एक युवक लापता हो गया था। खुलासे में यह बात सामने आई है कि शिकार करने गए दोस्तों में एक साथी को गोली लगने से उसकी मौत हो गई तो घबराकर तीन युवकों ने जहर खा लिया जबकि दो युवकों को जहर इसलिए नहीं दिया गया क्योंकि वह घर के एकलौते थे और उन्हें यह घटना गांव वालों को बताने की जिम्मेदारी गई थी ।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- BJP आलाकमान ने उत्तराखंड की महिला नेत्री दीप्ति रावत को दी यह बड़ी जिम्मेदारी

यह भी पढ़े👉हल्द्वानी- गरीब परिवार की बेटी पर क्षेत्र के लोगो को है नाज, बॉक्सिंग में लाई देश के लिए मेडल

Kisaan Bhog Ata

राजस्व पुलिस के अनुसार ग्रामीणों ने पूछताछ में बताया कि ग्राम कुंडी, बिनायखाल, पट्टी थाती कठुड, तहसील बालगंगा (राजस्व क्षेत्र) घनसाली के अर्जुन सिंह पंवार (23) पुत्र नयन सिंह पवार, सोबन सिंह पवार (24) पुत्र केसर सिंह, पंकज पंवार (23) पुत्र अब्बल सिंह पंवार, संतोष सिंह पंवार (23) पुत्र दिलीप सिंह, राहुल (20) पंवार पुत्र मोहन सिह पंवार व सुमित पंवार (18) पुत्र कुंदन सिह पंवार और रज्जी पुत्र प्रताप सिह नेगी निवासी ग्राम खवाडा शनिवार रात को शिकार करने गांव के ऊपर जंगल में गए थे। इस दौरान संतोष को गोली लगने के कारण उसकी मौत हो गई। साथ गए अन्य युवक उसे जंगल से उठाकर गांव से करीब दो किमी दूर अंदर जंगल में स्थित गांव की छानी में लाए।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून- UKSSSC भर्ती परीक्षाओं में करने जा रहा यह बदलाव, पढ़ें पूरी खबर

यह भी पढ़े👉देहरादून-(बड़ी खबर) इनको बनाया गया मुख्यमंत्री तीरथ का ओएसडी, देखिए आदेश

इसके बाद इन्होंने सलाह की कि उनसे बडा अपराध हो गया है, इसलिए अब जीने का कोई लाभ नहीं है। इन यवकों में से एक रज्जी, जो अभी भी लापता ने, वहां विषाक्त पदार्थ का इन्तजाम किया। अर्जुन सिह, सोबन सिह और पंकज ने विषाक्त पदार्थ खा लिया। राहुल और सुमित को विषाक्त पदार्थ इसलिए नहीं खाने दिया गया कि उनकी उम्र कम होने के साथ-साथ वे घर में इकलोते थे। साथ ही उन्हे गांव में जाकर सूचना गांव वालों को देने की जिम्मेदारी दी गई।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून- प्रदेश में अब से बाजार रहेंगे गुलजार, लेकिन ध्यान रहे यह टाइमिंग

यह भी पढ़े👉उत्तराखंड- 3 जिलों में 12 इलाके बने कंटेनमेंट जोन, रहे यहां से दूर

राहुल और सुमित ने घटना की जानकारी गांव में सुबह करीब 4.30 बजे दी। इस पर गांव वाले मौके पर पहुंचे। संतोष के साथ अर्जुन सिह व पंकज की घटना स्थल पर ही मृत्यु हो चुकी थी। जबकि, सोबन सिह ने बेलेश्वर चिकित्सालय में उपचार के दौरान दम तोड़ा। घटना कि प्रकृति गंभीर होने के कारण राजस्व पुलिस के साथ-साथ पुलिस क्षेत्राधिकारी टिहरी और थानाध्यक्ष घनसाली ने मौके पर जाकर घटना स्थल का मुआयना किया गया।

यह भी पढ़े👉उत्तराखंड- कोरोना से हुआ बुरा हाल, आज फिर रिकॉर्ड तोड़ मामले, देखिए ताजा अपडेट

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments