Aknur Motors, Bindukhatta
बागेश्वर ने कीवी उत्पादन के क्षेत्र में एक नया मुकाम हासिल किया

उत्तराखंड- पहाड़ के इस जिले को मिला नया मुकाम, मिला सिल्वर अवार्ड

Bansal Sarees & Bansal Jewellers Ad
खबर शेयर करें
  • 35
    Shares

बागेश्वर – जनपद बागेश्वर ने कीवी उत्पादन के क्षेत्र में एक नया मुकाम हासिल किया हैं, जिसमें कृषि के क्षेत्र में कीवी से आजीविका संवर्द्धन हेतु स्काच फांउडेशन द्वारा 66वीं स्काच प्रतियोगिता में जनपद बागेश्वर को सिल्वर अवार्ड से नवाजा गया। इस अवसर पर जिला कार्यालय सभागार में आयेाजित कार्यक्रम में जिलाधिकारी विनीत कुमार को मुख्य विकास अधिकारी डी0डी0पंत ने अवार्ड सौपा।इस अवसर पर जिलाधिकारी विनीत कुमार ने कहा कि वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडेक्ट के तहत जनपद से कीवी को चुना गया है।

ankur motors ad

हल्द्वानी- SSP का यह नया प्लान, शहर में नही लगने देगा जाम

उन्होने कहा कि कीवी उत्पादन में जनपद को यह अवार्ड मिलना गौरव की बात है। जिसके लिए किसानों द्वारा की गयी कडी मेहनत एवं लगन का ही प्रतिफल हैं जिनके प्रयासों से यह अवार्ड मिला हैं इसके लिए उन्होने किसानों एवं संबंधित विभागीय अधिकारियों को बधार्इ एवं शुभकाना देते हुए कहा कि जिस लगन एवं कडी मेहनत से सभी लोगो द्वारा कीवी उत्पादन के क्षेत्र में कार्य किया जा रहा हैं आगे भी इसी तरह से कृषि एवं बागवानी के क्षेत्र में कार्य करने की आवश्यकता हैं, ताकि जनपद हर क्षेत्र में नया मुकाम हासिल करते हुए अपनी एक अलग पहचान बना सकें।

यह भी पढ़े 👉हल्द्वानी- (काम की खबर) बिजली का बकाया बिल इस तारीख तक करें जमा, मिलेगी शत प्रतिशत छूट

उन्होने कहा कि शामा कलस्टर में कुछ सालो से ग्राम्य विकास विभाग द्वारा कीवी प्रोडेक्शन के क्षेत्र में कार्य किया जा रहा हैं जिससे कि उन्होने क्षेत्रीय किसानों को प्रोत्साहित किया है, तथा किसानो द्वारा इस क्षेत्र में बेहतर ढंग से कार्य किया जा रहा हैं, इसके लिए उन्होने दो नर्सरी भी बनायी गयी हैं, जिसमें छ: हजार से अधिक पौधो का रोपण किया गया हैं। उन्होने कहा कि इस कलस्टर में पहले 10 से 15 किसान कार्य कर रहें थे लेकिन अब लगभग 160 किसानों द्वारा इस क्षेत्र में कार्य किया जा रहा है तथा उनका प्रोडेक्शन दस गुना बडा है। उन्होने कहा कि विगत वर्षो में 10 से 15 कुन्तल का ही उत्पादन होता था वहीं वर्तमान में उत्पादन बढकर 120 कुन्तल हुआ हैं। उन्होने कहा कि कीवी के क्षेत्र में वर्ष 2024-25 में 1500 कुन्तल पहुचाने का लक्ष्य रखा गया हैं।

यह भी पढ़े 👉हल्द्वानी- गोवा में नौकरी गयी तो हल्द्वानी के युवा ने स्वरोजगार का निकाला गजब का आइडिया, कमा रहा हजारों

उन्होने कहा कि कीवी उत्पादन के लिए क्षेत्र के अन्य कृषकों को प्रेरित करने के लिए क्षेत्र में प्रशिक्षण केंद्र भी खोला गया हैं, जिसके माध्यम से किसानो को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। उन्होने कहा कि कीवी के लिए कोल्ड स्टोर बनाने की भी व्यवस्था की जायेगी जिससे कि क्षेत्रीय किसानों को इसका लाभ प्राप्त होगा। उन्होने कहा कि जनपद में कीवी के उत्पादन को बढावा देने के लिए जिला योजना से भी बजट का प्रावधान किया जायेगा।इस अवसर मुख्य विकास अधिकारी डी0डी0पंत ने सभी किसानों एवं संबंधित विभागीय अधिकारियों को बधार्इ देते हुए कहा कि सभी के प्रयासों से ही जनपद को यह अवार्ड मिला है, जो जनपद के लिए गर्भ की बात है।

यह भी पढ़े 👉हल्द्वानी- शादी के बाद घुंघट नहीं उठाने दे रही दुल्हन, मामला पहुचा थाने

उन्होने कहा कि इस परियोजना के अंतर्गत शामा, लीती, नौकुडी आदि क्षेत्रों में पूर्व से ही 2009 से कृषकों द्वारा कीवी का उतपादन किया जा रहा हैं, तथा 2014-15 से ग्राम्य विकास विभाग द्वारा इस क्षेत्र में शामा कलस्टर के रूप में कार्य किया है। जिससे के इस क्षेत्र में कीवी उत्पादन बडा है। उन्होने कहा कि कृषि एवं बागवानी के क्षेत्र में सभी को आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए और अधिक प्रगति हासिल करनी है। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी के0एन0तिवारी, जिला उद्यान अधिकारी आर0के0सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 उदय शंकर, उप परियोजना निदेशक ग्राम्या ललित रावत, सहित कृषक भवान सिंह कोरंगा शामा, मोहन सिंह, हीरा सिंह लीती, कृष्ण कुमल्टा खलझूनी, जिला पूर्ति अधिकारी अरूण कुमार वर्मा सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहें।

यह भी पढ़े 👉उत्तराखंड- बुलेट पेड़ से ऐसे टकराई, एक युवती की मौत, एक गम्भीर

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 सिग्नल एप्प से जुड़ने के लिए क्लिक करें

👉 हमारे फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 हमें ट्विटर (Twitter) पर फॉलो करें

👉 एक्सक्लूसिव वीडियो के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

अंततः अपने क्षेत्र की खबरें पाने के लिए हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Ad-Website-Development-Haldwani-Nainital
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x