उत्तराखंड- ग्राम प्रधान के भतीजे हत्याकांड में, 6 घंटे में पुलिस ने किया खुलासा, 4 लोग गिरफ्तार

Ad - Bansal Jewellers
खबर शेयर करें

उत्तराखंड के नैनीताल जिले के भवाली क्षेत्र में ग्राम प्रधान के भतीजे की निर्मम हत्या का पुलिस ने मात्र 6 घंटे में खुलासा कर दिया है। मंगलवार की सुबह तिरछा खेत रोड पर पत्थरों से कूच कूच कर एक युवक की निर्मम हत्या कर दी थी। घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी पुलिस को मिलते ही मौके पर एसएचओ भवाली संजय सिंह टीम सहित मौके पर पहुंचे। जिसके बाद जानकारी मिली कि मृतक नवीन चंद्र आर्य पुत्र स्वर्गीय राम लाल निवासी तल्ला तिरछा खेत भवाली नैनीताल का रहने वाला है। जिसकी उम्र 52 वर्ष है। घटना के बाद पुलिस ने तत्काल मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

पुलिस ने फॉरेंसिक टीम, डॉग स्क्वायड टीम, सर्विलांस टीम सहित चार टीमों का गठन करते हुए अलग-अलग पहलुओं पर घटनास्थल की जांच करते हुए सीसीटीवी कैमरे भी तलाशे गहनता से निरीक्षण करने के बाद पता चला कि सीसीटीवी कैमरे में मृतक नवीन चंद्र आर्य के साथ चार युवकों को जाते हुए देखा गया है। जिसके बाद पुलिस ने तत्काल चारों की गिरफ्तारी के लिए टीमें भेजी, मुखबिर की सूचना पर फ़रसोली रोडवेज स्टेशन पर शाम को 4:10 पर मोहित, आकाश, नीलेश और राजेश चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद पुलिस ने चारों से पूछताछ की तो उन्होंने इस हत्याकांड को अंजाम देना बताया, साथ ही यह भी बताया कि मृतक नवीन चंद्र आर्य की एक युवक से पुरानी रंजिश थी लिहाजा घटना को अंजाम देने के लिए अपने अन्य तीन दोस्तों के साथ मिलकर उन्होंने नवीन चंद्र आर्य को शराब पिलाने के बहाने नैनी बैंड, तिरछाखेत रोड की ओर लेकर आए जहां पत्थरों से उसकी निर्मम हत्या कर वहां से फरार हो गए।

इस सनसनीखेज हत्याकांड का चंद घंटों में खुलासा करने पर डीआईजी कुमाऊं ने ₹5000 और एसएसपी ने ढाई हजार रुपे तथा पुलिस अधीक्षक अपराध एवं यातायात ने ₹1000 के पुरस्कार खुलासा करने वाली टीम को देने की घोषणा की है।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- (बड़ी खबर) लालकुआं में कांग्रेस बगावत पार्ट 2, हरेंद्र बोरा का बड़ा फैसला
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments