Aknur Motors, Bindukhatta
INDRA

हल्द्वानी-(बड़ी खबर) हरीश रावत के ट्वीट के बाद इंदिरा ह्रदयेश का बड़ा बयान, कही यह बड़ी बात

Bansal Jewellers Ad - Khabar Pahad_Compressed
खबर शेयर करें
  • 55
    Shares

उत्तराखंड कांग्रेस के अंदर सियासी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है एक ओर से सियासी तीर तो दूसरी ओर से सियासी वाले चल रहे हैं और यह जंग भी विपक्ष से नहीं बल्कि अपनी ही पार्टी के शीर्ष नेताओं के बीच चल रही है हरीश रावत खेमा और प्रीतम और इंदिरा हिरदेश खेमे के बीच चुनावी तैयारियां छोड़ मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर बयान और उसके बाद पलटवार का सिलसिला जारी हो चुका है पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत द्वारा कांग्रेस में आगामी विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनजर पार्टी में मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित किए जाने के ट्वीट के बाद यह कोल्ड वार शुरू हो गया है अब नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने फिर से हरीश रावत पर न सिर्फ तीखी टिप्पणी की है बल्कि इशारों इशारों में बहुत कुछ याद दिलाया है।

ankur motors ad

यह भी पढ़ें👉 उत्तराखंड- कांग्रेस में कोल्डवार शुरू, हरीश रावत के नए ट्वीट ने फिर से मचाई खलबली

नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने बुधवार को मीडिया से बातचीत पर कहा कि हरीश रावत क्या लिखते हैं क्या बोलते हैं वह पूर्ण रुप से स्वतंत्र हैं ब्लाक प्रमुख से मुख्यमंत्री तक इतनी लंबी राजनीति करने के बाद पूरी तरह से आजाद हैं हम उन पर नियंत्रण लगा सकते हैं ना ही रोक लगा सकते हैं। इंदिरा हृदयेश ने कहा कि उनकी हरीश रावत से केवल एक ही प्रार्थना है कि वह ऐसा माहौल बनाएं की जनता कांग्रेस के पक्ष में वोट करने को तैयार होना की दूसरी तरफ भागने को तैयार।

इंदिरा हृदयेश ने यह भी कहा कि हम सब एकजुट हैं लेकिन जिन की महत्वाकांक्षा ज्यादा है वह एकजुट नहीं होना चाहते, इंदिरा हृदयेश ने कहा कि अगर हरीश रावत खुद को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करवाते हैं तो उनको बिल्कुल भी आपत्ति नहीं है यह काम केवल राष्ट्रीय नेतृत्व का है। हरीश रावत के चेहरा बनाए जाने के सवाल पर नेता प्रतिपक्ष से इंदिरा हरदेश ने कहा कि क्या आज तक कांग्रेस ने किसी को चेहरा बनाया है? और तंज कसते हुए कहा कि बनाया तो इसी चुनाव में था हरीश रावत को ही जिसमें हम 11 सीट पर आ गए, 1 जिले में भी एक सीट नहीं ला पाए और मुख्यमंत्री खुद दोनों जगह से लड़े और क्या हुआ आप सब जानते हैं। कुल मिलाकर कांग्रेस के चुनाव मोड में उतरने से पहले भीषण आंतरिक घमासान का दौर चल रहा है और ऐसे हालातों में फिलहाल इसके थमने के कोई आसार नजर नहीं आ रहे।

यह भी पढ़ें👉 हल्द्वानी- सरकारी स्कूलों के 46 हजार बच्चों के खातों में डाले जाएंगे 2.76 करोड़, पढ़िए पूरी खबर

Ad-Website-Development-Haldwani-Nainital
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x