Shemford School Haldwani
कोविड वेक्सिनेशन

देहरादून- (बड़ी खबर) कोरोना के वैक्सीनेशन के लिए यह प्लान बना रही है सरकार, CM ने दिए यह खास निर्देश

Bansal Sarees & Bansal Jewellers Ad
खबर शेयर करें

देहरादून- मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सभी जिलाधिकारियों से कोविड वेक्सिनेशन की सभी आवश्यक तैयारियां समय पर सुनिश्चित करने के निर्देश दिये है। उन्होंने इसके लिये प्राथमिकतायें निर्धारित करते हुए वेक्सिनेशन सेन्टरों के चिन्हीकरण एवं आवश्यक उपकरणों के साथ ही मैन पॉवर की उपलब्धता का पूरा प्लान समय पर सुनिश्चित किये जाने के भी निर्देश दिये है। उन्होंने स्कूलों के बजाय अस्पतालों एवं उसके आस पास क्षेत्रों में वेक्सिनेशन सेन्टर स्थापित करने को कहा है।

यह भी पढ़ें👉 रामनगर- पर्यटकों ने कॉर्बेट के अंदर देखा ऐसा नजारा, कि दांतों तले दबा ली उंगलियां VIDEO

Kisaan Bhog Ata

शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास में मण्डलायुक्तों के साथ ही सभी जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से कोविड 19 के बचाव से सम्बन्धित व्यवस्थाओं की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने सचिव स्वास्थ्य को निर्देश दिये है कि प्रदेश में सरकारी एवं निजी लैब में प्रतिदिन हो रहे टेस्टो एंव उनकी क्षमता आदि का पूरा विवरण उन्हें शीघ्र उपलब्ध कराया जाए। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि कोविड डेथ रेट को कम करने के लिए विशेष प्रयास किये जाए। कोविड के कारण जिन लोगों की मृत्यु हो रही है, किसी अन्य रोग से ग्रसित होने, देरी से अस्पताल में पहुंचने या अन्य किस कारण से हो रही है, इसका पूरा विश्लेषण किया जाए। किसी भी कोविड के मरीज को हायर सेंटर रेफर किया जाना है, तो इसमें बिल्कुल भी विलम्ब न किया जाए। रिकवरी रेट बढ़ाने के लिए और प्रयासों की जरूरत है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यह मार्ग 10 दिन तक रहेगा बन्द, चलेंगे केवल ये वाहन
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:(बड़ी खबर) सरकारी नौकरी का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए खुशखबरी, आ गई पटवारी और लेखपाल की बम्पर भर्ती, यहां करे आवेदन

यह भी पढ़ें👉 देहरादून- अतिथि शिक्षकों के लिए राहत भरी खबर, सरकार ने जारी किए यह आदेश

यह भी पढ़ें👉 रूद्रपुर- विरोध के बाद हटाया गया इस अधिकारी को, मुख्यालय से किया गया अटैच

मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि जिलों में टेस्टिंग और तेजी से बढ़ाई जाए। आरटीपीसीआर टेस्ट पर विशेष ध्यान दिया जाए। यदि व्यक्ति सिम्पटोमैटिक है, तो उनका शत प्रतिशत आरटीपीसीआर हो। यह सुनिश्चित किया जाए कि सैंपल लेने के बाद शहरी क्षेत्रों में 24 घण्टे के अन्दर व पर्वतीय क्षेत्रों में 48 घण्टे के अन्दर लोगों को कोविड की रिपोर्ट मिल जाए। कोविड से बचाव के लिए लोगों को जागरूक किया जाए कि किसी भी प्रकार के लक्षण दिखने पर कोविड कन्ट्रोल रूम एवं ट्रोल फ्री नम्बर पर कॉल करें। जो लोग होम आईसोलेशन में हैं, उनके नियमित स्वास्थ्य की जानकारी ली जाए एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा विजिट किया जाए। कोविड के लक्षण पाये जाने पर भी यदि कोई टेस्ट कराने के लिए मना कर रहें है, तो ऐसे लोगों पर सख्ती बरती जाए। जब तक कोरोना की वैक्सीन नहीं आती है, तब तक पूरी सर्तकता बरती जाए।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- राज्य में कोरोना रिकवरी रेट 95 फीसदी से पहुचा ऊपर, 3471 एक्टिव केस, देखिए हेल्थ बुलेटिन

यह भी पढ़ें👉 देहरादून- संडे से शुरू हो रही हो ऑनलाइन भर्ती परीक्षा, अभ्यर्थी जान ले यह नियम

यह भी पढ़ें👉 उत्तराखंड- (दुःखद) गुलदार ने महिला को मार डाला, गांव में दहशत, घर में कोहराम

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 सिग्नल एप्प से जुड़ने के लिए क्लिक करें

👉 हमारे फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 हमें ट्विटर (Twitter) पर फॉलो करें

👉 एक्सक्लूसिव वीडियो के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

अंततः अपने क्षेत्र की खबरें पाने के लिए हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments