उत्तराखंड – कोर्स करने दिल्ली गई युवती, युवक संघ लौटी तो हो गया हंगामा

खबर शेयर करें -
  • युवती के गांव लौटने पर बखेड़ा……..इस युवक को साथ देख परिजनों का चढ़ा पारा, ये है मामला

उत्तराखंड के सीमांत पिथौरागढ़ जिले में दिल्ली से युवती के युवक के साथ लौटने से बखेड़ा खड़ा हो गया। युवती फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने दिल्ली गई, लेकिन वहां से लिव इन में साथ रह रहे युवक को लेकर घर लौटी। इस बात से परिजनों के साथ ही ग्रामीण नाराज हो गए और उन्होंने पंचायत की, लेकिन नतीजा नहीं निकला। इसके बाद मामला पुलिस में पहुंच गया। जहां युवती, युवक के साथ ही रहने पर अड़ी रही। परिजनों ने युवक पर धर्म परिवर्तन का भी आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - गर्जिया मंदिर दर्शन करने आए लखनऊ के पर्यटक की डूब कर हुई मौत

नगर से लगे एक गांव की युवती करीब ढाई वर्ष पूर्व इंटर की पढ़ाई के बाद फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने दिल्ली गई। वहां उसकी मुलाकात यूपी बिजनौर के रहने वाले एक युवक से हुई, जो दिल्ली में डीजे का कार्य करता है। दोनों बीते एक वर्ष से लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगे। दो दिन पूर्व युवती अपने लिव इन साथी को साथ लेकर अपने गांव लौटी। परिजनों ने पूछताछ की और जब दोनों के संबंध और युवक के बारे में उन्हें जानकारी मिली तो वह हैरान रह गए।

कुछ ही समय में बात पूरे गांव में फैल गई। बीते रोज गांव में पंचायत हुई, लेकिन युवती ने ग्रामीणों की बात नहीं सुनी और युवक के साथ रहने की जिद करने लगी। शुक्रवार को परिजन, ग्रामीण और युवक-युवती कोतवाली पहुंचे। कई घंटे की चर्चा के बाद भी मामले का कोई समाधान नहीं निकला।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) 200 पदों की भर्ती को लेकर UPDATE
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड -(दुखद) यहां खाई गिरी कार दो लोगों की मौत, 3 घायल

ग्रामीण युवक और युवती दोनों को लेकर कोतवाली पहुंचे थे। दोनों बालिग हैं। युवक का शांतिभंग के आरोप में चालान किया है। इधर युवती के परिजनों ने युवक पर उसे बहला फुसलाकर धर्म परिवर्तन करने का आरोप लगाया है। इस संबंध में पुलिस में तहरीर दी गई है। हालांकि पुलिस ने अभी मुकदमा दर्ज नहीं किया है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments