Ad

हल्द्वानी- पत्नी को दूसरे के साथ बिस्तर पर देखा तो पति ने कर डाली हत्या, पुलिस ने ऐसे खोला राज

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। कालाढूंगी थाना क्षेत्र में हुई विवाहिता की हत्या का पुलिस ने 6 घंटे के भीतर खुलासा कर दिया। इस मामले में महिला का पति ही मुल्जिम निकला। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। हत्या के पीछे रिश्ते के भाई से अवैध संबंध मुख्य कारण रहा।

पुलिस के मुताबिक 27 अप्रैल को थाना कालाढूगी के रात्रि अधिकारी उपस्थित निरीक्षण विजय कुमार के पास चौकी बैलपडाव मे नियुक्त कांस्टेबल जसवीर सिंह द्वारा जरिये टैलीफोन सूचना दी कि चौकी बैलपडाव क्षेत्र में स्थित लूनिया खत्ता वन क्षेत्र में रहने वाले किसी वन गुर्जर की एक लडकी की आकस्मिक मृत्यु हो गयी जो संदिग्ध प्रतीत हो रही है। इस सूचना पर थाना कालाढूंगी से उप निरीक्षक विजय कुमार मय महिला कांस्टेबल प्राची आदि राजवीर सिंह नेगी थानाध्यक्ष की सूचना पर मौके पर रवाना हुआ । जहाँ पर मौका मुआयना करने पर प्रथम दृष्टया मृतका आमना की मृत्यु किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा गला घोटकर होना प्रतीक हुई। जिस पर मृतका के दादा गुलाम नवी द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर थाना कालाढूंगी में हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया।

पंकज भट्ट वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल द्वारा उक्त घटित घटना के तत्काल अनावरण एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी करने हेतु दिशानिर्देशों दिये गये,डॉ जगदीश चंद्र पुलिस अधीक्षक अपराध/यातायात नैनीताल के पर्यवेक्षण में विवेचना राजवीर सिंह नेगी थानाध्यक्ष कालाढूगी द्वारा सम्पादित की गयी । दौराने विवेचना गवाहो के बयानो व पूछताछ के दौरान अभियुक्त रियासत अली द्वारा अपना अपराध कबूल करते हुए बताया कि लगभग डेढ साल पहले मेरा निकाह मेरे मामा की लडकी आमना से हुआ लेकिन गोना नहीं हुआ था। इसलिए हम दोनो अलग रहते थे। लगभग 6 महीने पहले मै धान की पुराल इकट्ठा करने यहां आया हुआ था। अपने मामा हनीफ और यामीन के यहां रहता था। इसी दौरान मुझे पता चला कि मेरी पत्नी आमना का अपने ताऊ के लडके अय्यूब के साथ चक्कर चल रहा है , इन दोनों को एक दिन मैनें रंगे हाथों बिस्तर पर पकड भी लिया जिस कारण मेरे मन में धीरे-धीरे आमना के प्रति नफरत सी होने लगी ।

कल रात मैंने अपने मोबाईल से आमना को व्हाटसप मैसेज कर बाहर बातचीत के लिए बुलाया तथा अय्यूब के साथ चल रहे चक्कर के बारे में पूछा तो हम दोनों में झडप हो गई। मुझे गुस्सा आ गया मैंने वहीं पास पडे दुपट्टे से पीछे से आकर उसका गला घोट दिया तथा उसको उठाकर उसके घर के पीछे पराल के ढेर के पास लाकर रख दिया। मैं अपने बिस्तर पर जाकर सो गया थोडी देर में लगभग एक बजे के आस पास आमना की मम्मी मामा के घर पर आयी और कहने लगी कि आमना को कुछ हो गया है। जिस पर मैं और हनीफ मामा और मामी पराल के पास गये और मैने इस बात का एहसास किसी को भी नही होने दिया कि आमना और मेरे बीच हुई मोबाईल चैट को आमना के मोबाईल से मैने डिलिट कर दिया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- भाजपा मंडल महामंत्री के हत्यारे गिरफ्तार, यह रहा हत्या का कारण
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहां चलते ट्रैक्टर के ऊपर गिर गया विशालकाय पेड़, मच गई चीख-पुकार

पुलिस ने जांच व पूछताछ के बाद अभियुक्त रियासत अली पुत्र शमशेर अली, उम्र- 20 बर्ष , हाल निवासी- लुनिया गांजा भवानीपुर सलिया गैबुआ, बैलपडाव कालाढूंगी, जनपद नैनीताल को गिरफ्तार कर लिया। इस कामयाबी पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट ने टीम को प्रोत्साहन स्वरुप 5000 रुपया की धनराशि से पुरुष्कृत किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- दोस्तों के साथ गया नहाने और हो गया लापता, एसडीआरएफ ने ऐसे निकाली लाश

पुलिस टीम में राजवीर सिंह नेगी थानाध्यक्ष कालाढूंगी,उपनिरीक्षक बीरेन्द्र सिंह बिष्ट,उप निरीक्षक विजय कुमार, कांस्टेबल लखविन्दर सिह, चन्द्रप्रकाश, जसवीर सिह,अशोक कुमार,लेखराज व होमगार्ड जगदीश पाण्डे शामिल थे।

Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments