Ad
LEOPARD ATTACK IN NAINITAL

उत्तराखंड- यहां मां के हाथ से ढाई साल के मासूम को खींच ले गया तेंदुआ, मच गई चीख पुकार

Ad - Bansal Jewellers
खबर शेयर करें

Pithoraghar News- उत्तराखंड में मानव वन्यजीव संघर्ष रुकने का नाम नहीं ले रहा है रोजाना वन्यजीवों के हमले में लोग अपनी जान गवा रहे हैं खासकर पहाड़ी इलाकों में सबसे ज्यादा तेंदुए यानी गुलदार (leopard) का आतंक है ताजा मामला पिथौरागढ़ जिले के गंगोलीहाट तहसील मुख्यालय के पास का है। जहां 8 किलोमीटर दूर स्थित जरमाल गांव के छाता तोक में ढाई साल की मासूम बच्ची को तेंदुआ उसके मां के हाथ से उठाकर ले गया घटना के बाद से पूरे गांव में दहशत है।leopard took away the child in gangolihat

दरअसल रविवार की शाम को छाता गांव में लीसा निकालने का काम करने वाले विकास बहादुर थापा की ढाई साल की पुत्री रिया पर उस वक्त तेंदुए ने हमला कर झपट्टा मारा जब वह अपनी झोपड़ी से लगभग 30 मीटर दूर पानी लेने गई थी। साथ में मां सरिता देवी भी थी सरिता ने रिया का हाथ पकड़ा हुआ था और दोनों चल रहे थे इस दौरान अचानक हाथ लगाए हुए तेंदुए ने रिया पर झपट्टा मारा और उसे उठाकर ले गया।

मां ने बच्ची को बचाने का बहुत प्रयास किया परंतु तेंदुआ बालिका को झपट्टा मारकर ले गया इस दौरान सरिता देवी की चीख-पुकार सुनकर लीसा दोहन करने वाले मजदूर वहां पहुंचे जिनको घटना के बारे मैं जानकारी मिलते ही सूचना ग्राम प्रधान और 1 सरपंच को भी दी गई जिसके बाद वन विभाग सहित ग्रामीण बालिका की तलाश में खोजबीन में जुट गए।

बताया जा रहा है कि यह नेपाली परिवार सड़क से डेढ़ किलोमीटर दूर जंगल के पास छोकरी बनाकर रहते हैं और यहां 3 महीने से निशा निकालने का काम कर रहे हैं फिलहाल वन विभाग के अधिकारी और कर्मचारी और लोग बच्ची की तलाश में जुटे हैं।

Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- (काम की खबर) शहर के इन स्कूलों के बच्चो की होगी Covid-19 जांच, जानिए DATE और टाइमिंग
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments