Shemford School Haldwani
bageshawar

बागेश्वर- टीम ने जब देख कि खाई में 6 गौवंश मृत अवस्था और 12 घायल अवस्था में असहाय थे, तब शुरू हुआ..

Bansal Sarees & Bansal Jewellers Ad
खबर शेयर करें

बागेश्वर- उत्तराखंड के कपकोट में एक खाई में फंसी गाय को एस.डी.आर.एफ.के जवानों ने खतरनाक ढंग से रैस्क्यू किया । बागेश्वर जिले के कपकोट में मंगलवार दोपहर एस.डी.आर.एफ. टीम को सूचना मिली कि निकत्वर्तीय चीरा बगड़ रोड से लगभग तीन किलोमीटर ऊपर काला पानी जंगल के नाले में कुछ गौवंशीय पशु फंसे हुए हैं । सूचना के बाद टीम जरूरी संसाधनों को लेकर ग्रामीणों के साथ मौके पर पहुंची । पशुओं के गहरी खाई में होने के कारण उन्हें बाहर लाना आसान नहीं था । टीम ने मौके पर देखा कि लगभग छह गौवंशीय पशु मृत अवस्था में थे जबकि कुल 12 घायल और असहाय पड़े थे । सभी पशु लावारिस हालत में भूखे प्यासे फंसे थे जिसके कारण वो अत्यधिक कमजोर हो गए थे। रैस्क्यू के लिए टीम ने वैकल्पिक रास्ता बनाया । टीम के सदस्यों ने ग्रामीणों की मदद से नौ पशुओं को सुरक्षित निकाला, जबकि तीन को अत्यधिक घायल होने के कारण पशु चिकित्सक (वैटेनरी)से इलाज कराया । बताया जा रहा है कि टीम के सदस्य बुधवार को दोबारा गौवंशीय पशुओं की तलाश में रैस्क्यू एंड सर्च अभियान चलाएंगे ।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- अब टेंशन बढ़ा रहा कोरोना का डेल्टा प्लस वेरिएंट, पढ़िए नई अपडेट

यह भी पढ़े 👉उत्तराखंड पुलिस की इस महिला अधिकारी को मिला राष्ट्रीय सम्मान

Kisaan Bhog Ata

SDRF पोस्ट कपकोट जनपद (बागेश्वर) को सूचना प्राप्त हुई कि चीरा बगड़ रोड से लगभग 3 किलोमीटर ऊपर जंगल काला पानी गधेरा मैं कुछ गोवंश पशु फंसे हुए हैं उपरोक्त सूचना पर SDRF टीम तत्काल हेडकांस्टेबल हृदेश परिहार के हमराह आवश्यक संसाधन सहित घटना स्थल को रवाना हुई SDRF टीम स्थानीय ग्रामीणों के साथ जंगल मे पगडण्डियों भरे उबड़ खाबड़ रास्ते से लगभग 2 किमी की दूरी तय कर घटना स्थल पर पहुंचें। घटना स्थल जंगल मे एक वीरान घाटी थी जहां एक बार पहुंच कर गो वंश का वापस आना आसान नही था।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून- हाई स्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा को लेकर एक और नई अपडेट

यह भी पढ़े 👉देहरादून- आईएएस और पीसीएस अधिकारी का कार्यभार बदला


टीम ने मौके पर देखा कि 6 गोवंश मृत अवस्था में थे जबकि 12 गोवंश पशु घायल ओर असहाय थे, ये गोवंश लावारिस हालत में चारे की तलाश में गहरी खाई में फंसे थे सम्भवतः किसी की नजर न पड़ने से भूख प्यास से अत्यधिक कमजोर हो गए थे।घायल गायों की स्थिति को देखते हुए जवानों के द्वारा वैकल्पिक मार्ग भी बनाया गया टीम द्वारा तत्काल ही ग्रामीणों की सहायता से 9 गोवंश को सुरक्षित निकाला, जबकि 03 अत्यधिक घायल होने के कारण खड़े होने में असमर्थ थे जिस कारण वहां निकालना आसान नही था इस दशा में स्थानीय समाजसेवी द्वारा वेटरनरी डॉक्टर से संपर्क किया और मौके पर ही पशुओं का उपचार करने का अनुरोध एवम परामर्श दिया। SDRF टीम द्वारा कल भी स्थानीय क्षेत्र में घाटी क्षेत्र में सर्चिंग की जाएगी ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(बड़ी खबर) कुंभ कोरोना टेस्टिंग घोटाला, इन स्वास्थ्य अधिकारियों को किया गया तलब

यह भी पढ़े 👉हल्द्वानी- भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने वरिष्ठ पत्रकार रहे विनोद मेहरा को दी यह बड़ी जिम्मेदारी

यह भी पढ़े 👉BIG BREAKING- सीबीएसई की एग्जामिनेशन की डेटशीट हुई जारी, यहां से करें डाउनलोड

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments