Ad

राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण ने अस्पतालों से की आयुष्मान कार्ड धारकों के कैशलेस उपचार की अपील

खबर शेयर करें -

Dehradun News- राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण ने आयुष्मान कार्ड धारकों का पूर्णतया कैशलेस इलाज में सहयोग करने के लिए सभी संबंधित अस्पतालों से अपील की है। प्राधिकरण की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि लाभार्थी से किसी भी सेवा के लिए कोई पैसा नहीं लिया जाएगा। लेकिन कतिपय जगहों से एसजीएचएस के लाभार्थी द्वारा अस्पताल में हुए खर्चे की प्रतिपूर्ति का दावा करने की जानकारियां हैं। यदि ऐसा होता है तो लाभार्थी के प्रतिपूर्ति किए दावे की धन राशि का समायोजन अस्पताल के भुगतान से किया जाएगा।

राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण के मुताबिक AB-PMJAY और SGHS के तहत IPD उपचार SGHS लाभार्थियों सहित सभी पात्र आयुष्मान कार्ड धारकों के लिए मुफ्त और कैशलेस है। स्वास्थ्य लाभ पैकेज में पंजीकरण शुल्क शामिल है, इसके अलावा बिस्तर शुल्क, नर्सिंग और बोर्डिंग शुल्क, सर्जन, एनेस्थेटिस्ट, मेडिकल प्रैक्टिशनर, कंसल्टेंट्स फीस आदि, एनेस्थीसिया, रक्त आधान, ऑक्सीजन, ओ.टी. शुल्क, सर्जिकल उपकरणों आदि की लागत, दवाएं और दवाएं, कृत्रिम उपकरणों, प्रत्यारोपण की लागत, पैथोलॉजी और रेडियोलॉजी परीक्षण (एक्स-रे, एमआरआई, सीटी स्कैन आदि को शामिल करने के लिए रेडियोलॉजी, रोगी को भोजन, अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्च और ईएचसीपी में रोगी के इलाज से संबंधित कोई अन्य खर्च शामिल है।

ऐसे में यदि अस्पताल स्तर या किसी अन्य स्तर पर लाभार्थी से कोई पैसा लिया जाता है तो वह अनुचित है। राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण की ओर से जारी पत्र के मुताबिक अस्पताल स्तर पर उपचार के लिए खर्च की गई किसी भी राशि की दावा राशि को उसके भुगतानों से वसूल किया जाएगा। प्राधिकरण ने सभी संबंधित अस्पतालों से सहयोग की अपील की है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(बेहद दुःखद) जम्मू कश्मीर हादसे में उत्तराखंड का लाल भी हुआ शहीद
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments