उत्तराखंड – नवीन भट्ट का नया नाम अब नारायण भट्ट, फिर से नामकरण, जनेऊ व विवाह की रश्में

खबर शेयर करें -

खटीमा। ऊधमसिंहनगर के खटीमा के श्रीपुर बिचुवा के मजरा फार्म में हुई रोचक घटना में गुरुवार को जन्म से लेकर विवाह तक के कार्यक्रम दुबारा संपन्न कराए गए। बुधवार शाम को वापस लौटे नवीन भट्ट का नामकरण किया गया। पंडित आनंद बल्लभ जोशी ने नवीन को नया नाम नारायण भट्ट दिया। उसके बाद यज्ञोपवीत संस्कार हुआ। कन्या पक्ष के चाचा और मां टनकपुर से आए। वर पक्ष से बातचीत के बाद विवाह की रस्म भी पूरी की गई। चार घंटे में जीवनभर के संस्कार कराए गए।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News- प्रदेश के विभिन्न लोक सभा क्षेत्रों की 439 कि.मी. सड़कों के लिये स्वीकृत हुई 259 करोड़ की धनराशि

पंडित आनंद बल्लभ जोशी ने बताया कि वह सुबह आठ बजे मजरा फार्म पहुंच गए थे। सबसे पहले उन्होंने नामकरण संस्कार किया। नवीन भट्ट को नया नाम नारायण भट्ट दिया गया। कहा कि नवीन को हिंदू धर्म के अनुसार नया जन्म मिला है। नवीन अब नारायण के नाम से जाना जाएगा। नामकरण के बाद नारायण का जनेऊ संस्कार किया गया। विवाह की बात बगैर कन्या पक्ष की मौजूदगी के संभव नहीं थी। इसलिए टनकपुर से कन्या पक्ष के लोग गांव में पहुंचे। वर एवं कन्या पक्ष में जब विवाह की बात तय हुई तो पंडित जोशी ने वर-वधू का विवाह संपन्न कराया। जोशी ने बताया कि इस पूरे कार्यक्रम में चार घंटे का समय लगा। गुरुवार को भी परिवार ने मीडिया व अन्य लोगों से दूरी बनाए रखी। केवल नारायण भट्ट के भाई केशव दत्त भट्ट ही लोगों से मिले।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments