हल्द्वानी – मुख्यमंत्री की घोषणा में शामिल हुवा बिंदुखत्ता राजस्व गांव, उधर समिति की रिपोर्ट भी जिला स्तर पर पहुंची

खबर शेयर करें -

लालकुआं। बिंदुखत्ता राजस्व गांव मामले में क्षेत्रीय विधायक डॉ मोहन बिष्ट के अनुरोध पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उक्त मामले को मुख्यमंत्री की घोषणा में शामिल किया है, इसके बाद बिन्दुखत्ता वासियों को राजस्व गांव को लेकर पुनः उम्मीद जगी है।


उक्त जानकारी देते हुए क्षेत्रीय विधायक डॉ मोहन बिष्ट ने बताया कि उन्होंने गत 2 फरवरी को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पत्र सौंपते हुए मांग की थी कि बिंदुखत्ता राजस्व गांव मामले को मुख्यमंत्री अपनी घोषणा में शामिल करें, ताकि जल्द से जल्द बिंदुखत्ता राजस्व गांव का रास्ता साफ हो सके, इस पर आज मुख्यमंत्री ने कार्रवाई करते हुए बिंदुखत्ता राजस्व गांव मामले को मुख्यमंत्री की घोषणा में शामिल किया है, विधायक ने कहा कि बिंदुखत्ता राजस्व गांव का मामला मुख्यमंत्री की घोषणा में शामिल होने के बाद जल्द ही राजस्व गांव बनने की ओर अग्रसर होगा।


इसके अलावा बिंदुखत्ता राजस्व गांव को लेकर 28 फरवरी को पूर्व सीएम हरीश रावत के नेतृत्व में इंडिया गठबंधन ने विधानसभा देहरादून के समीप धरना प्रदर्शन किया था, वही धारचूला के विधायक हरीश धामी ने उक्त मामले को विधानसभा में उठाया था।
वही विधायक कार्यालय के सुरेश पांडे का कहना है कि वनाधिकार समिति द्वारा राजस्व गांव के मुद्दे पर की जा रही कार्रवाई के तहत उनकी पत्रावली जिला स्तरीय कमेटी में पहुंच गई है, जल्द ही जिला स्तरीय समिति में उनकी फाइल पर जनप्रतिनिधि एवं वन अधिकार समिति के पदाधिकारी सक्षम अधिकारियों के समक्ष अपना पक्ष रखेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  UPSC: हरिद्वार की अदिति तोमर ने हासिल की 247वीं रैंक, पूर्व डीजीपी की बेटी भी बनी आईपीएस
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments