Ad

हल्द्वानी- (बड़ी खबर) सन्ध्या डालाकोटी का दावा, कांग्रेस में हो जाएगा सब ठीक, दुर्गापाल है पिता तुल्य

खबर शेयर करें

हल्द्वानी/लालकुआं- कांग्रेस आलाकमान द्वारा 11 प्रत्याशियों की दूसरी लिस्ट जारी होते ही रामनगर कालाढूंगी और लालकुआं विधानसभा में कांग्रेसी दावेदारों में भारी आक्रोश देखने को मिला है लालकुआं विधानसभा से पहली बार महिला प्रत्याशी संध्या डालाकोटी को टिकट दिया है। जिसके बाद लाल कुआं विधानसभा से प्रबल दावेदार माने जा रहे हरीश चंद्र दुर्गापाल और हरेंद्र बोरा के समर्थकों ने टिकट की घोषणा होते ही बगावत शुरू कर दी। लेकिन मंगलवार को लालकुआं विधानसभा में सियासी समीकरण उस समय बिगड़ गए जब सुबह 11:30 बजे हरीश चंद्र दुर्गापाल की महापंचायत में कांग्रेस की अधिकृत प्रत्याशी संध्या डालाकोटी उनसे आशीर्वाद लेने उनके घर पहुंची।

संध्या डालाकोटी के हरीश चंद्र दुर्गापाल के घर पहुंचते ही मुख्य द्वार को समर्थकों द्वारा बंद कर दिया गया जिसके बाद संध्या डालाकोटी ने कई बार दुर्गापाल से मिलने की बात कही लेकिन वहां सियासी हालात और बिगड़ गए। इस दौरान हरेंद्र भूरा के समर्थक भी वहां पहुंच गए, दुर्गापाल और हरेंद्र के समर्थक नारेबाजी कर रहे थे तो वही संध्या डालाकोटी भी दुर्गापाल के आवास के गेट के बाहर जमीन में बैठ गई। संध्या डालाकोटी के समर्थकों ने कहा कि यह महिला का अपमान है वह दुर्गापाल से आशीर्वाद लेने आई हैं क्योंकि वह पार्टी के वरिष्ठ नेता है।

बाद में संध्या डालाकोटी वापस चली गई। खबर पहाड़ पर एक्सक्लूसिव बातचीत पर संध्या डालाकोटी ने कहा कि वह हरीश चंद्र दुर्गापाल को अपने पिता तुल्य पार्टी के वरिष्ठ नेता मानती है और वह उनका आशीर्वाद लेने उनके घर गई थी लेकिन उनको इस बात का बुरा लगा कि उनके लिए दरवाजे बंद कर दिए गए। खबर पहाड़ से एक्सक्लूसिव बातचीत में संध्या डालाकोटी ने बताया कि कांग्रेस में कुछ घंटों में सब कुछ ठीक हो जाएगा जितने भी नाराज कार्यकर्ता हैं और दावेदार हैं हम उनको मना लेंगे और साथ ही यह सीट कांग्रेस की झोली में जाएगी।

उधर दूसरी तरफ हरीश चंद्र दुर्गापाल ने मौखिक रूप से 27 या 28 जनवरी को शुभ मुहूर्त देखकर नामांकन करने का दावा किया है साथ ही यह कहा है कि यह सीट निर्दलीय प्रत्याशी हरीश चंद्र दुर्गापाल के नाम होगी। फिलहाल दिनभर चले लालकुआं विधानसभा के इस सियासी ड्रामे में जनता के बीच में जमकर चर्चा रही। उधर दुर्गापाल समर्थक हर हाल में चुनाव लड़ने की बात कहते रहे। फिलहाल लालकुआं विधानसभा में पॉलीटिकल स्थिति का अंदाजा लगाना राजनीतिक पंडितों के लिए भी मुश्किल बैठ रहा है क्योंकि भाजपा ने भी अब तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून- इस विभाग में संविदा कर्मचारी पक्के होंगे, वन टाइम सेटेलमेंट स्कीम
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments