उत्तराखंड- यहां DM के सख्त निर्देश, अवैध खनन, परिवहन और भंडारण करने वालो को नहीं बख्शा जाएगा

खबर शेयर करें -

रूद्रपुर – जनपद में अवैध खनन, परिहवन एवं भण्डारण पर पूर्णतः अंकुश हेतु राजस्व, पुलिस, वन, खनन विभाग के अधिकारी आपसी तालमेल से कार्य करना सुनिश्चि करें। यह निर्देश जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त ने अवैध खनन निरोधक दल की बैठक लेते हुए जिला कार्यालय सभागार में दिये।
जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिये कि जनपद में अवैध खनन, परिहवन एवं भण्डारण करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ सख्ती से कार्यवाही अमल में लाई जाये।

उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद स्तर से किये जाने वाले छापेमारी अभियान में किसी भी दशा में स्थानीय स्तर के कार्मिकों को किसी भी प्रकार की सूचना न दी जाये और जनपद स्तर से ही टीम पूरी तैयारियों के साथ जाये। उन्होंने स्पष्ट कहा कि टीम में शामिल किसी भी व्यक्ति के साथ छापेमारी के दौरान अभद्रता एवं एक भी खरोच बरदास्त नहीं की जायेगी। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि छापेमारी के दौरान फोटो तथा वीडियोग्राफी अवश्य कराई जाये।


जिलाधिकारी ने परिवहन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि नम्बर प्लेट सही से न लगाने वाले एवं नम्बर प्लेट के साथ ग्रीस आदि लगाकर छेड़छाड़ करने वालों के खिलाफ सख्ती से कार्यवाही करने तथा टॉल प्लाज़ा पर लगे सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग समय-समय पर चैक करना सुनिश्चित करें। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि कॉमर्शियल कार्य विशेषकर अवैध खनन में लगी ट्रैक्टर ट्राली स्वामियों के खिलाफ भी सख्ती से कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking News : तीसरी बार प्रधानमंत्री बने नरेंद्र मोदी, LIVE
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून: मुख्य सचिव की दो टूक, उद्योगों के लिए बेहतर व्यवस्था करें अधिकारी


जिलाधिकारी ने निर्देशित करते हुए कहा कि अवैध खनन से सम्बन्धित शिकायतों का निस्तारण हेतु डेडलाइन जारी करते हुए कहा कि शिकायत प्राप्त होने पर शिकायत का निस्तारण एक सप्ताह के भीतर करना सुनिश्चित करें।


जनपद स्तर पर गठित अवैध खनन निरोधक दल हेतु गठित समिति में जिलाधिकारी को अध्यक्ष तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, नोडल प्रभागीय वनाधिकारी, जिला खान अधिकारी, संभागीय परिवहन अधिकारी, सम्बन्धित क्षेत्र के ग्राम प्रधान तथा जीबी पन्त कृषि एवं तकनीकि विश्वविद्यालय के पर्यावरण विज्ञान के एचओडी को सदस्य बनाया गया है। जिलाधिकारी ने उपखण्ड स्तर पर गठित समिति का अध्यक्ष सम्बन्धित क्षेत्र के उप जिलाधिकारी को तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी, उप प्रभागीय वनाधिकारी, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी, ग्राम प्रधान तथा जिला खान अधिकारी एवं खान निरीक्षक को सदस्य बनाया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून : सूबे में पढ़ाई के साथ कमाई भी करेंगे छात्र-छात्राएं


बैठक में अपर जिलाधिकारी जय भारत सिंह, प्रशिक्षु आईएएस अनामिका, डीएफओ वैभव सिंहएसपी क्राइम चन्द्रशेखर घोड़के, उप निदेशक खनन दिनेश कुमार, एसडीओ प्रदीप कुमार, एके जोशी, एआरटीओ वीके सिंह, ग्राम प्रधान चन्द्रकला, राहुल तिवारी, कैलाश चन्द्र जोशी, राधा देवी, रीति कोहली, हरमन सिंह, राकेश कुमार आदि उपस्थित थे।


अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments