उत्तराखंड -(दुःखद) नदी का लकड़ी पुल पार कर रहे थे मां- बेटा, दोनो बहे, गांव में कोहराम

खबर शेयर करें -

थराली (चमोली)- विकासखंड देवाल के अंतर्गत चमोली के अंतिम गांव हरमल के पास पिंडर नदी पर ग्रामीणों के द्वारा लकड़ी का पुल बनाया गया है, नदी को पार करते हुए रामपुर तोर्ती गांव की एक महिला एवं उसका बेटा पिंडर नदी में बह गए हैं। जानकारी के अनुसार देवाल ब्लॉक मुख्यालय से करीब 50 किमी दूर देवाल के हरमल गांव के पास ग्रामीणों के द्वारा पिंडर नदी को आर-पार करने के लिए लकड़ी का पुल बनाया गया था। नदी पार करते समय देवाल ब्लाक के रामपुर गांव निवासी हेमा देवी 35 पत्नी प्रताप राम एवं प्रवीन कुमार 15 पुत्र प्रताप राम संतुलन खो कर पिंडर नदी में जा गिरे एवं नदी के तेज बहाव मे बह गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून - हीट वेव को लेकर येलो अलर्ट जारी- उत्तराखंड के मैदानी जिलों में अगले 3 दिन हीट वेव
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) इन कर्मचारियों के एक मंडल से दूसरे मंडल में हो सकेंगे तबादले

नलधूरा के राजस्व उपनिरीक्षक प्रमोद नेगी ने बताया की तहसील एवं जिला प्रशासन को सूचना भेज दी गई हैं।रात अधिक होने,सुयालकोट में सड़क ठीक नही होने एवं सड़क से करीब 8 किमी से अधिक दूरी पर घटनास्थल होने के कारण सुबह टीमें घटनास्थल के लिए रवाना होगी। बताया जा रहा है कि महिला का मायका बागेश्वर जिले के किलपारा गांव में हैं। वें पिछले दिनों अपने मायका रामपुर अपने बेटे को लेकर पूजा के लिए मायके गई थी

वापसी में यह दर्दनांक हादसा हो गया। बताया जा रहा हैं कि 2013 की आपदा में हरमल में बना झूला पुल पिंडर नदी की भेंट चढ़ गया था। तबसे आज तक पुल का निर्माण कार्य शुरू नही हों सका हैं।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments