उत्तराखंडः मौसम विभाग का फिर अलर्ट जारी, इन जिलों में भारी बारिश की संभावना

खबर शेयर करें -

Uttarakhand Weather: मौसम विभाग ने राज्य के सभी जिलों में 19 सितम्बर तक भारी वर्षा को लेकर येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार राज्य के सभी जनपदों में कहीं-कहीं गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने वर्षा के तीव्र से अति तीव्र दौर होने तथा कहीं-कहीं भारी वर्षा होने की संभावना को देखते हुए लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। संवेदनशील इलाकों में कहीं-कहीं हल्के भूस्खलन और चट्टान गिरने से राजमार्ग बाधित हो सकता है तथा निचले इलाकों में जल भराव की स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - यहां शिक्षक गायब, भोजन माता के भरोसे बच्चे, पढ़ाये या खिलाए

मौसम विभाग की ओर से उत्तराखंड के अधिकांश इलाकों में बादल छाए रहने और बारिश के आसार जताए गए हैं। मौसम विभाग के निदेशक विक्रम सिंह के अनुसार कई जिलों में भारी बारिश हो सकती है। उन्होंने कहा कि देहरादून, नैनीताल, चंपावत, चमोली और बागेश्वर में कहीं-कहीं गरज और चमक के साथ भारी बारिश हो सकती है। अन्य जिलों में भी हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई गई है।

उत्तराखंड में एक बार फिर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के चलते मौसम विभाग में 3 घंटे का तात्कालिक मौसम पूर्वानुमान जारी करते हुए उत्तराखंड राज्य के कुमायूं मंडलों में कहीं-कहीं तेज बौछार की संभावना जारी की है वही मौसम विभाग ने चमोली जनपद में भी कुछ स्थानों में गर्जन वाले बादल विकसित होने तथा बहुत हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना मौसम विभाग ने जताई है मौसम विभाग ने सुबह 6:00 से लेकर 9:00 बजे तक जारी तात्कालिक मौसम पूर्वानुमान में येलो अलर्ट के तहत लोगों को सतर्कता बरतने की बात कही है इस बीच मौसम विभाग ने रुद्रपुर में 33.5 डीडीहाट में 27 लक्सर में 23 जौलजीबी में 15.5 तथा टनकपुर में 11 मिली मीटर बरसात पिछले कुछ समय में रिकॉर्ड की है।।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(बड़ी खबर) दर्दनाक सड़क हादसे में दो लोगों की मौत तीन महिलाएं गभीर
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - ढाई साल के बच्चे को आंगन से उठा ले गया गुलदार

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments