उत्तराखंड- यहां फार्मेसिस्ट ने डॉक्टर का फोड़ा सर, खुद भी जहर खाकर करने लगा आत्महत्या

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी- हल्द्वानी के गौलापार स्थित पशु चिकित्सा अधिकारी विनीता टोलिया जंगपांगी के ऊपर अस्पताल में ही तैनात फार्मासिस्ट भुवन पंत ने जानलेवा हमला कर दिया जिससे महिला डॉक्टर को गंभीर चोटे आई है। महिला डॉक्टर का बेस अस्पताल में इलाज चल रहा है तो वहीं घटना के बाद फार्मासिस्ट ने भी जहर खाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया है।

फिलहाल फरमासिस्ट की हालत गंभीर बताई जा रही है जिसे डॉक्टरों ने सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती किया गया है। महिला डॉक्टर के सर और हाथ में गंभीर चोटें आई हैं, बताया जा रहा है कि महिला डॉक्टर और फार्मासिस्ट में पिछले 2 सालों से ट्रांसफर को लेकर विवाद चल रहा था, जिसके बाद फार्मासिस्ट ने आज महिला डॉक्टर के ऊपर हमला कर दिया।

हल्द्वानी- गौलापार स्थित कुंवरपुर पशु चिकित्सा अधिकारी विनीता टोलिया जंगपांगी के ऊपर अस्पताल का तैनात फार्मासिस्ट ने मामूली बात पर जानलेवा हमला कर दिया जहां महिला डॉक्टर को गंभीर चोटे आई है जहां बेस अस्पताल में महिला डॉक्टर का इलाज चल रहा है तो वहीं घटना के बाद फार्मासिस्ट ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया है फिलहाल फरमासिस्ट की हालत गंभीर बताई जा रही है जिसे डॉक्टरों ने सुशीला तिवारी अस्पताल को रेफर किया है। बताया जा रहा है कि गौलापार स्थित कुंवरपुर पशु चिकित्सालय में तैनात पशु चिकित्सा अधिकारी विनीता टोलिया जंगपांगी के ऊपर शनिवार को उनके अस्पताल का फार्मासिस्ट भुवन चंद्र पंत ने अस्पताल में लोहे के धारदार वस्तु से हमला बोल दिया जहां महिला डॉक्टर ने अस्पताल से भाग कर अपनी जान बचाई। इस दौरान महिला डॉक्टर के सर में और हाथ में गंभीर चोटें आई हैं जहां बेस अस्पताल में इलाज चल रहा है। हमला के बाद हमलावर फार्मासिस्ट भुवन चंद्र पंत ने जहरीला पदार्थ खा लिया, जहां उसकी हालत गंभीर हो गई। परिजन उस को बेस अस्पताल ले आए जहां हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने सशीला तिवारी को रेफर किया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः पहले बनाया मुर्गा फिर डंडे से जमकर पीटा, घायल छात्र नहीं आया स्कूल, बीईओ के पास पहुंचा मामला
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- पहाड़ का यह युवा बना लखपति साथ में जीती बुलेट, बनाई थी टीम

वही बेस अस्पताल के डॉक्टर प्रशांत सिंह ने बताया कि महिला के सर हाथ में गंभीर चोट आई है जहां इलाज चल रहा है तो वही भुवन चंद्र पंत को हालत गंभीर देखते हुए बेस अस्पताल को रेफर किया गया है। बताया जा रहा है कि महिला डॉक्टर और फार्मासिस्ट में पिछले 2 सालों से विभागीय विवाद चल रहा था जिसको लेकर कई बार विभाग में शिकायत भी दर्ज हुई थी। बताया जा रहा है कि फरमासिस्ट की ट्रांसफर को लेकर दोनों में विवाद हो गया था जिसके बाद फार्मासिस्ट ने महिला डॉक्टर को ऊपर हमला कर दिया

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(बड़ी खबर) राज्य के विभिन्न सरकारी अस्पतालों से लापता है 109 डॉक्टर, होगी यह कार्रवाई

About Post Author

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

WP Post Author

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments