उत्तराखंड- यहां राखी से पहले टूटा दुःखो का पहाड़, एक साथ जली तीन चिताएं

खबर शेयर करें -

टिहरी– चंबा टैक्सी स्टैंड के पास हुए भुस्खलन हादसे में मारे गए तीन लोगों का गमगीन माहौल में कोटोकॉलोनी घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया। एक साथ तीन चिता देख घाट पर श्रद्धांजलि देने पहुंचे लोग बिलख पड़े। जसपुर गाँव में कृष्णकुंज घाट पर मां-बेटे का अंतिम संस्कार किया गया।

सोमवार को चंबा में अचानक पहाड़ से आए मलवे में पांच लोग जिंदा दफन हो गए थे। इस हादसे की सूचना मिलते ही उनके घरों में कोहराम मच गया और रात को चूल्हा नहीं जला। खबर फैली तो गांव के लोग बड़ी संख्या में घरों में पहुंच गए। मंगलवार को अंतिम संस्कार के दौरान घाट पर भी परिचितों-रिश्तेदारों के साथ ही बहुत से लोग पहुंचे।

राखी पर टूटा, दुखों का पहाड़

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी - पोलिंग पार्टियों को मिलेगी इतनी रकम और TA - DA

टिहरी। कंडीसौड़ के जसपुर गांव निवासी सुमन के सर में चार माह पहले ही किलकारिया पूंजी थीं। इससे परिवार में खुशी का माहौल था लेकिन चंबा में हुए इस भया हादसे ने उन्हें कभी ना भुला सकने वाला गम दे दिया।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) सहायक अध्यापकों के तबादले की तैयारी शुरू

सुमन भी अपने चार माह के बच्चे के साथ पहली बार मायके जा रही थी. लेकिन उन्हें क्या पता था कि वह कभी पूरा नहीं होने वाले सफर पर निकली है। इस घटना के बाद से उनके पर और मायके डारगी में शोक पसरा गया।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून - (Weather Alert) इन पांच जिलों में खराब मौसम का अलर्ट

नई टिहरी भूस्खलन हादसे में पांच लोगों की मौत के बाद
मंगलवार को चंबा बाजार बंद रहा। चंबा समेत जिन गांवों के लोग इस हादसे में मारे गए सभी के घरों में शोक संवेदना व्यक्त करने वालों की भीड़ रही। इधर, चंबा में व्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद रखी स्थानीय लोगों का कहना है कि इस हादसे में इस शहर को अंदर से झकझोर दिया है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments