Shemford School Haldwani

उत्तराखंड- यहां गुलदार ने एक और परिवार की छीनी खुशियां, बहन के सामने भाई को उठा ले लिया गुलदार

Ad - Bansal Jewellers
खबर शेयर करें

Pithoragarh News- मंगलवार शाम गंगोलीहाट तहसील मुख्यालय के लगभग दस किमी दूर पाली ग्राम पंचायत के ललतरानी गांव में गुलदार ने एक दस वर्षीय बालक को अपना निवाला बना लिया है। घटना के बाद गांव में दहशत का माहौल है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार शाम को 10 वर्षीय गणेश कुमार उर्फ गोकुल पुत्र अर्जुन राम अपनी 13 वर्षीय बहन के साथ घर से लगभग तीन सौ मीटर दूर जोग्युड़ा स्थित दुकान से सामान खरीदने गया था। दोनों भाई बहन दुकान से सामान खरीद कर जब घर को लौट रहे थे तो दुकान से सौ मीटर नीचे झाडिय़ों में छिपे गुलदार ने गोकुल पर हमला किया और उसे मौके पर ही मार कर उसका मांस खाने लगा।

यह सब देख कर मृतक की तेरह वर्षीय बहन चिल्लाते हुए भागी। उसके चिल्लाने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे। गुलदार गोकुल के शव को छोड़ कर भाग गया। ग्रामीणों को गोकुल का शव घटनास्थल के कुछ मीटर दूर मिला। घटना की सूचना वन विभाग, पुलिस और प्रशासन को दी गई।

सूचना मिलते ही तहसील मुख्यालय से वन रेंजर मनोज सनवाल, थानाध्यक्ष दिनेश बल्लभ और पटवारी विजय पंत अपनी टीम के साथ मौके को रवाना हुए। गुलदार का शिकार बना गोकुल घर का एकलौता चिराग है। उसका पिता अर्जुन राम मजदूरी कर परिवार का पालन पोषण करता है। इस घटना के बाद उसके घर पर कोहराम मचा है। उसकी मां बेहोश है। गांव के भीतर ही गुलदार द्वारा बालक को मारे जाने से गांव में दहशत बनी हुई है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून- 26 सितंबर तक आया मौसम का पूर्वानुमान, इन इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- इतने पदों पर होमगार्ड की निकली भर्ती, पांचवी और आठवीं पास करें आवेदन

ग्रामीणों ने वन विभाग से गुलदार को पकडऩे के लिए पिंजरा लगाने और शिकारी तैनात कर गुलदार को मारने की मांग की है। इस क्षेत्र के बिरगोली गांव में एक वर्ष पूर्व गुलदार ने एक बारह वर्षीय बालक को अपना निवाला बनाया था। कुछ माह पूर्व बोयल गांव में घर में घुस कर गुलदार ने एक ग्रामीण को घायल किया था।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- इस विधायक से मांग रहा था रंगदारी, कोलकाता से उठा लाई पुलिस, ऐसे करता था ब्लैकमेल

यहां से लगभग दस किमी दूर जरमाल गांव में बीते दिनों गुलदार ने एक नेपाली बालिका को अपना निवाला बनाया। बीते सप्ताह वन विभाग द्वारा तैनात शिकारी ने जरमाल गांव में आदमखोर गुलदार को ढेर किया था। आदमखोर को मारे अभी एक सप्ताह भी नहीं हुआ है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments