रामनगर- पुलिस ने हत्या का किया खुलासा, केवल इस कारण कर दिया मर्डर

खबर शेयर करें -
  • रामनगर में हत्या का एस़.पी. सिटी हल्द्वानी ने किया खुलासा, 02 अरोपियों को कोतवाली रामनगर पुलिस ने किया गिरफ्तार
  • मुकदमा अपराध संख्याः- 448/23 धारा – 302/201/34 भादवि
  • दिनांक घटना- 07.10.23 दिनांक सूचना- 09.10.23


रामनगर– दिनांक 08.10.23 को मृतक गोविन्द सिंह फर्त्याल पुत्र भूपाल सिंह निवासी किशनपुर छोई का शव ग्राम किशनपुर छोई में पनचक्की के पास नहर पर ताश से बरामद किया गया। मृतक के शरीर पर कपड़े नहीं थे तथा शरीर पर जगह जगह चोटों के निशान थे , जिससे प्रथम दृष्टया मृतक की हत्या करना प्रतीत हो रहा था। मृतक का पंचनामा व पोस्टमार्टम की कार्यवाही कर के उपरान्त मृतक के पुत्र सौरभ फर्त्याल की तहरीर पर थाना स्थानीय पर मुकदमा उपरोक्त पंजीकृत कर विवेचना व0उ0नि0,श्री महेश जोशी के सुपुर्द की गयी। घटना का अनावरण करने हेतु उच्चाधिकारीगणों के निर्देशन तथा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रामनगर के नेतृत्व में व0उ0नि0 श्री मौ0 यूनुस तथा विवेचक व0उ0नि0 श्री महेश जोशी को सम्मिलित करते हुए तत्काल पुलिस टीमों का गठन किया गया। उक्त टीमों द्वारा घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण किया गया तथा घटनास्थल के आस पास के 50-60 व्यक्तियों के बयान लिए गये , आस पास के सीसीटीवी फुटेज का अवलोकन किया गया तथा घटनास्थल पर डाग स्कवाड को बुलाया गया तथा मोबाइल सर्विलांस हेतु जनपद नैनीताल से एस.ओ.जी टीम बुलाकर कार्यवाही प्रारम्भ की गयी। उक्त पुलिस टीमों के अथक प्रयासों के बाद प्रकाश में आया कि मृतक गोविन्द फर्त्याल के खेत से कुछ दिन पहले किसी ने पेड़ काट दिए थे , मृतक को शक था कि उसके खेत से पेड़ अभियुक्त कुन्दन सिंह के भाई संतोष उर्फ सोढ़ी तथा उसके साथियों ने काटे हैं , इस बात से मृतक काफी नाराज था तथा दि0 07.10.23 को मृतक गोविन्द सिंह अभियुक्त कुन्दन सिंह विष्ट के घर गया था जहां उसकी कुन्दन सिंह विष्ट से काफी बहस हुयी थी । उसके बाद तत्काल ही कुन्दन सिंह उपरोक्त के घर पर दबिश दी गयी तो वह घर पर मौजुद नहीं मिला । पतारसी सुरागरसी करने पर जानकारी मिली कि कुन्दन सिंह विष्ट नया कोशी पुल हल्द्वानी बस अड्डे पर है तथा कहीं भागने की फिराक में है , उक्त जानकारी मिलने पर कुन्दन सिंह विष्ट उपरोक्त को तत्काल ही दबिश देकर हल्द्वानी बस अड्डा रामनगर से गिरफ्तार कर पूछताछ की गयी।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल -(दुखद हादसा)- गहरी खाई में गिरी कार,हादसे में डॉक्टर की मौत


पूछताछ के दौरान बताया कि गोविन्द फर्त्याल के खेत से कुछ दिन पहले किसी ने पेड़ काट दिए थे जिसका शक वे गांव के लड़को पर ही कर रहे थे वे जिन लोगों पर शक कर रहे थे उनमे एक मेरा भाई संतोष उर्फ सोडी भी था । दिनांक 07.10.23 को टैम्पू से लगभग सात, सवा सात बजे मै अपने घर पहुंचा , जब मै घर पहुँचा तो मेरी माँ किचन मे सब्जी काट रही थी तथा हमारे मकान की छत पर गोविन्द फर्त्याल था तथा अपमानजनक बातें कर अपने कटे पेड़ो के पैसे मांग रहा था मैने उससे गाली गलौज न करने को कहा पर वह नही माना तथा मेरे सामने ही मेरी माँ को गाली गलोज करने लगा माँ को गाली देता देख मुझे अच्छा नही लगा मेरी गोविन्द से बहस हो गई इसी बीच मैने उसे छत से जहाँ पर वो खड़ा था नीचे को धक्का दे दिया जिससे गोविन्द सीडियों पर गिर गया तथा उसे चोट लग गई । मै डर गया कि हल्ला गुल्ला कोई सुन न ले तथा मैने उसे किचन मे खीच लिया हमारा झगड़ा देखकर माँ किचन से अपने कमरे को चली गई थी । गोविन्द किचन मे ही बड़बड़ा रहा था व हमें गालिया दे रहा था । इसी बीच मेरा छोटा भाई भोपाल बिष्ट उर्फ घन्नु जो कि भतरोजखान होटल मे काम करता है वह भी घर आ गया था । उसने भी गोविन्द को गालिया देते देखा तथा माँ को गाली देने की बात सुनी तो उसे भी गुस्सा आ गया फिर मैने व मेरे भाई भोपाल सिंह ने लात घुसो से गोविन्द फर्त्याल को पीटा तथा उसके सिर को फर्श पर पटक दिया जिससे वो अचेत हो गया । हम डर गए थे हमे लगा कि यदि यह ठीक हो गया तो यह हमारी शिकायत करेगा हम दोनो भाई इसे घसीटते हुए मकान के पीछे तरफ खेत से होते हुए बरसाती नाले के नीचे नहर के उपर ले गये थे इस दौरान घसीटने से गोविन्द का लोवर व बनियान उतर गयी थी तथा अन्डर वियर भी उतर गया था । फिर मैने नहर की दीवार पर गोविन्द को लेटाकर चैक किया उसके मुँह पर पानी के छीटें मारे तो गोविन्द के शरीर मे कोई हलचल नही हुई । इस बीच मेरा भाई घन्नु नहर से नीचे कूदकर घर को चला गया था तथा मैने भी गोविन्द को धक्का देकर नहर में डाल दिया तथा मै भी घर को चला गया । हमने उसके शव को नहर मे इसलिए डाला ताकि वह पानी के साथ बह जाए तथा किसी को कुछ पता न चले।
घटना में शामिल दुसरे अभियुक्त भोपाल सिंह विष्ठ उर्फ घन्नू उपरोक्त को भी रोजवेज बस अड्डे के अन्दर रामनगर से गिरफ्तार कर लिया । अभियुक्त गणों की निशानदेही मृतक के कपड़े , मोबाइल ,टार्च व लोहे का पाइप भी बरामद किया गया ।
घटनास्थल- किशनपुर छोई रामनगर
वादी- सौरभ फर्त्याल पुत्र श्री गोविन्द सिंह फर्त्याल निवासी किशनपुर छोई रामनगर
गिरफ्तार अभियुक्तगण –
1- कुन्दन बिष्ट उर्फ मन्नु पुत्र स्व0 खिलाफ सिंह नि0 किशनपुर छोई रामनगर,नैनीताल उम्र 26 वर्ष
2- भोपाल सिंह विष्ट उर्फ घन्नू पुत्र स्व0 खिलाफ सिंह निवासी ग्राम किशनपुर छोई थाना रामनगर जिला नैनीताल,उम्र 23 वर्ष
बरामद सम्पत्ति:- मृतक के कपड़े , लोहे का पाइप , मृतक का मोबाइल व मृतक की टार्च
विवेचक – व0उ0नि0 श्री महेश जोशी
गिरफ्तारी टीम
1- श्री अरुण कुमार सैनी प्रभारी निरीक्षक रामनगर
2- श्री मौ0 यूनुस व0उ0नि0 रामनगर
3- श्री महेश जोशी व0उ0नि0रामनगर
4-उ0नि0 श्री तारा सिंह राणा
5- उ0नि0श्री जोगा सिंह
6- उ0नि0 श्री राजवीर सिंह
7- हे0कानि0 हेमन्त सिंह
8-हे0कानि0 नसीम अहमद
9-कानि0 श्री विजेन्द्र सिंह
10-कानि0 श्री विपिन शर्मा
11-कानि0 श्री संजय दोसाद
12 कानि0 श्री अशोक कुमार
13-कानि0 कुन्दन सिंह
14- हे0 कानि0 बसन्त मेहरा मय डाग कैटी रुद्रपुर मय टीम
15-उ0नि0 सत्यप्रकाश रायपा – फारेन्सिंक यूनिट रुद्रपुर मय टीम

नोटः- घटना का अनावरण करने वाली पुलिस टीम को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय जनपद नैनीताल द्वारा 2500/- रू0 का ईनाम देने की घोषणा की गई हैं।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments