हल्द्वानी-गौला नदी में डूबने से सेवानिवृत्त कैप्टन की हुई मौत से सदमे में आई पत्नी ने भी तोड़ा दम

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी। भारतीय सेना के सेवानिवृत्त कैप्टन नरेश भट्ट की मौत के सदमे में पत्नी ने भी तीसरे दिन दम तोड़ दिया। बुधवार को अचानक उनकी मौत से स्वजनों में कोहराम मच गया। रानीबाग स्थित चित्रशिला घाट पर उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया है।
नवाबी रोड निवासी नरेश भट्ट आर्मी से कैप्टन पद से सेवानिवृत्त हुए थे। रविवार को गौला बैराज के पास उनका शव मिला था। वह घर से कहीं जाने की बात कहकर गए थे। पुलिस के अनुसार, नरेश अपनी पत्नी शांति भट्ट के साथ रहते थे। उनके दो बेटे हैं। एक कनाड़ा व दूसरा दुबई में रहता है। मंगलवार को उनका एक बेटा हल्द्वानी पहुंचा।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) इन 8 जिलों में बारिश के आसार
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(बड़ी खबर) विधवा महिला की मोहब्बत का दीवाना, दीवार फांदकर जब घुसने लगा घर


इसके बाद शव का अंतिम संस्कार किया गया था। स्वजनों की मानें तो नरेश व उनकी पत्नी के बीच गहरा जुड़ाव था। पति की मौत से शांति देवी अकेलापन महसूस कर रही थीं और उनका रो-रोकर बुरा हाल था। बुधवार को अचानक उनकी मौत हो गई। सेवानिवृत्त कैप्टन व उनकी पत्नी की मौत पर पूर्व सैनिकों ने दुख जताया और दोनों दिवंगत दंपती को श्रद्धांजलि दी है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments