हल्द्वानी-(Good News) सुशीला तिवारी अस्पताल में MRI मशीन का लोकार्पण

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी, -प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा, उच्च शिक्षा,संस्कृति, सहकारिता,मंत्री डा0 धन सिंह रावत ने सोमवार को राजकीय मेडिकल कालेज में 12 करोड 53 लाख की लागत से 1.5 टैस्ला एमआरआई मशीन का किया लोकापर्ण। अपने सम्बोधन में डा0 रावत ने कहा कि प्रदेश के चारों मेेडिकल कालेज (श्रीनगर, हरिद्वार,हल्द्वानी एवं अल्मोडा) में लगभग 37 करोड की लागत से एमआरआई मशीनें उपलब्ध करा दी गई है। इन मशीनों के संचालन से प्रदेश के आयुष्मान कार्ड धारकों को निशुल्क सुविधा मुहैया होगी।


श्री रावत ने कहा कि प्रदेश में तीन नये मेडिकल कालेज उधमसिंह नगर, पिथौरागढ एवं हरिद्वार जनपदों में बनाये जा रहे जिनका निर्माण कार्य लगभग पूर्ण होने की स्थिति में है जल्द ही इन मेडिकल कालेजों का लोकापर्ण किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 23 वर्षों से नर्सों की भर्ती नही हो पाई थी। सरकार द्वारा 1500 नर्सों के भर्ती की प्रक्रिया पूर्ण कर ली है 15 अगस्त को इन नर्सों को ज्वाइनिंग दी जायेगी। डा0 रावत ने कहा कि प्रदेश में चार नये नर्सिंग कालेज शीघ्र खोले जायेंगे। उन्होंने कहा प्रदेश के सभी मेडिकल कालेजों में कैथलैब की सुविधा इसी वर्ष दे दी जायेगी। उन्होंने कहा प्रदेश में शतप्रतिशत चिकित्सकों की तैनाती कर दी गई है शेष चिकित्सकों की तैनाती एक माह के भीतर कर दी जायेगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - इस युवा ने तैयार कर दी इलेक्ट्रा मोटरसाइकिल, जबरदस्त माइलेज


उन्होंने कहा प्रदेश सरकार 01 अगस्त से 30 सितम्बर 2023 तक प्रदेश के 1500 ग्राम सभाओं में आयुष्मान सभा एवं चौपालों का संचालन किया जायेगा। इन आयुष्मान सभाओं के द्वारा प्रत्येक ग्राम के लोगों का आयुष्मान कार्ड, आभा आईडी बनाने के साथ ही लोगांे के स्वास्थ्य की जांच की जायेगी। उन्होंने कहा 2025 तक राज्य को टीबी मुक्त उत्तराखण्ड बनाया है, इसके लिए सरकार द्वारा प्रत्येक टीबी मरीज को दवाईयों के साथ ही 500 रूपये की धनराशि मरीज के खाते में ऑनलाईन भेजी जा रही है साथ ही उन्होंने खुशी व्यक्त करते हुये कहा कि प्रदेश में लगभग 15 हजार टीबी मरीज है इन सब मरीजों का जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, स्वयसेवी संस्थाओं, चिकित्सालयों के चिकित्सकों, आमजनता आदि ने गोद ले लिया।

उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड के लोगों द्वारा इस दिशा में सराहनीय कदम उठाया गया है। उन्होंने कहा 108 एम्बुलैंस का रिस्पांस टाइम पहले 40 मिनट था उसे घटाकर अब 20 मिनट कर दिया है, रिस्पांस टाइम 20 मिनट के बाद 108 देरी से आती है तो उसे 950 रूपये का जुर्माना देना होगा। डा0 सिंह ने कहा कि प्रदेश के सभी मेडिकल कालेजों की फैकल्टी 2024 तक पूर्ण कर ली जायेगी साथ ही उन्हांेने कहा सुशीला तिवारी चिकित्सालय के आडिटोरियम का लोकापर्ण मुख्यमंत्री द्वारा शीघ्र किया जायेगा।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून - VDO के पदो पर नियुक्ति और परशिक्षण को लेकर UPDATE


इस अवसर पर विधायक सरिता आर्या,जिलाध्यक्ष प्रताप बिष्ट,साकेत अग्रवाल, अध्यक्ष कोआपरेटिव राजेन्द्र सिंह नेगी, विकास भगत, रंजन बर्गली, हेमंत बिष्ट, कार्तिक हर्बोला,नागेश गुप्ता, राहुल झिंगरन, डा0 जेड ए वारसी के साथ ही प्राचार्य डा0 अरूण जोशी, एमएस डा0 जीएस तितियाल के साथ ही चिकित्सक एवं स्टाफ मौजूद थे।



उच्चशिक्षा मंत्री डा0 धनसिंह रावत ने उत्तराखण्ड मुक्त विश्वविद्यालय को देश के प्रथम पांच विश्वविद्यालय में स्थान आने पर विश्वविद्यालय के प्रोफेसर, रजिस्ट्रार, विभागाध्यक्षों के साथ ही स्टाफ को बधाई दी। उन्होंने कहा देश में मुक्त विश्वविद्यालय को प्रथम स्थान के लिए कार्य करना है इसके लिए हमें सच्ची निष्ठा के साथ कार्य करना होगा तभी हम इस मुकाम में कामयाब होंगे। उन्होेेंने कहा कि बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए कई प्रकार के बदलाव किये जा रहे हैं।


उन्होंने कहा प्रदेश सरकार प्राईमरी शिक्षा में प्रथम बदलाव के रूप में बच्चों को क्षेत्रीय भाषा के साथ ही संस्कृत, हिन्दी एवं अग्रेजी भाषाओं को भी पढाने का विकल्प दिया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार कलस्टर स्कूल व पीएम श्री स्कूल बनाने जा रही है। नई शिक्षा नीति आने से प्रदेश में 70 हजार बच्चों के द्वारा नये एडमिशन लिये गये। डा0 सिंह ने कहा कि प्रदेश द्वारा बालवाटिका पुस्तक लांच कर दी गई है। नई शिक्षा के क्षेत्र में प्रदेश में बहुआयामी कार्य किये जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(Good News) काठगोदाम- हनुमानगढी रोपवे का निर्माण होगा जल्द


मुक्त विश्वविद्यालय में सितम्बर एवं जनवरी 2023 वर्तमान तक 88900 बच्चों द्वारा एडमिशन लिया गया है। मुक्त विश्वविद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में एक मुकाम हासिल कर रहा है। उन्होंने परीक्षा नियंत्रक को निर्देश दिये बच्चों के रिजल्ट में देरी ना की जाए इसके लिए तकनीकी का उपयोग कर शीघ्र रिजल्ट उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने उत्तराखण्ड मुक्त विश्वविद्यालय के भवनों जिनका लोकापर्ण हो चुका है शीघ्र थर्ड पार्टी से सर्वे कर हस्तांतरित करने के निर्देश कुलपति को दिये।
इस अवसर पर कुलपति प्रो उपेश नेगी, जिलाध्यक्ष प्रताप बिष्ट,नवीन भटट,रंजन बर्गली, कार्तिक हर्बोला के साथ ही विभागाध्यक्ष, रजिस्टार के साथ ही मुक्त विश्वविद्यालय के स्टाफ उपस्थित थे।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments