हल्द्वानी-(बड़ी खबर) 52 हजार दुग्ध उत्पादकों के लिए खुशखबरी

खबर शेयर करें -
  • प्रदेश के दुग्ध उत्पादको को समय अन्तर्गत 4 करोड की दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन राशि का हुआ भुगतान-बोरा

हल्द्वानी – उत्तराखण्ड सहकारी डेरी फैडरेशन के प्रशासक व अध्यक्ष नैनीताल दुग्ध संघ मुकेश सिह बोरा ने कहा कि पहली बार सरकार से समय अंतर्गत बजट प्राप्त होने के चलते प्रदेश 52 हजार दुग्ध उत्पादको को रक्षा बन्धन व जन्माष्ठमी से पूर्व जुलाई 2023 तक का लगभग 4 करोड की धनराशि उनके बैक खातो में डीबीटी के माध्यम से प्रेषित किये जाने पर माननीय मुख्यमंत्री पुष्कर सिह धामी व माननीय दुग्ध विकास मंत्री सौरभ बहुगुणा का प्रदेश के समस्त दुग्ध उत्पादको व प्रबन्ध कमेटी सदस्यो की ओर हार्दिक धन्यवाद व आभार वयक्त किया गया । साथ उन्होने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री पुष्कर सिह धामी जी व माननीय दुग्ध विकास मंत्री सौरभ बहुगुणा जी का दूरगामी सोच का ही परिणाम है कि आज प्रदेश के सभी दुग्ध संघ लाभ की ओर है और दुग्ध उत्पादको के कल्याण हेतु डेरी विकास की अनेको योजनाए संचालित की गई है। इस दौरान श्री बोरा ने प्रदेश के समस्त दुग्ध उत्पादकों एवं उपभोक्ताओं को रक्षाबंधन एवं जन्माष्टमी की अग्रिम शुभकामनाएं प्रेषित की।

यह भी पढ़ें 👉  देश में हीट वेब से 11 राज्यों में लू का कहर

दुग्ध उत्पादको ने देखा किस तरह तैयार होते है आंचल दुग्ध उत्पाद एंव पैक्ड पशुचारा ।

लालकुआं । नैनीताल दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ द्वारा जनपद नैनीताल बिन्दुखत्ता क्षेत्र के 80 दुग्ध उत्पादको द्वारा नैनीताल दुग्ध संघ व पशुआहार निर्माणशाला का भ्रमण कर देखा कि कैसे तैयार होते है उनके द्वारा भेजे गयेे दूध से दुग्ध उत्पाद व उनके पशुओ हेतु पैक्ड पशुचारा।


दुग्ध उत्पादक जागरूकता कार्यक्रम के तहत दुग्ध समिति रावतनगर तृतीय बिन्दुखत्ता के क्षेत्र के लगभग 80 दुग्ध उत्पादको को सहकारी डेरी प्रशिक्षण संस्थान के प्रशिक्षण हाल में नैनीताल दुग्ध संघ के सामान्य प्रबन्धक निर्भय नारायण सिह द्वारा दुग्ध सहकारिता के क्षेत्र में सरकार द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं पर प्रकाश डालते हुए दुग्ध उत्पादको को उनके सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया गया ।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(Weather Alert) पहाड़ों में बारिश, मैदान में तेज हवाओं की चेतावनी

इस दौरान दुग्ध उत्पादको द्वारा दुग्ध संघ के मुख्य दुग्धशाला का भ्रमण कर देखा कि उनके द्वारा भेजे जा रहे दूध को किस तरह प्रयोगशाला में गुणवत्ता की जांच की जाती है तथा उस दूध की कम्प्यूटराईज्ड तौल उपरान्त आंचल दुग्ध उत्पाद घी, मक्खन, पनीर, लस्सी, छाछ, मक्खन, खोवा आदि उत्पाद किस तरह बडी बडी आटोमैटिक मशीनों द्वारा तैयार किये जा रहा है उसका नजारा देखा । इसके बाद भ्रमण दल के टीम लीटर मार्ग प्रभारी मोहन जोशी व फील्ड सुपरवाइजर सुरेन्द्र सिह जग्गी द्वारा दुग्ध उत्पादको को पशु आहार निर्माणशाला रूद्रपुर का भ्रमण कराया गया जहां पर उत्पादको को पैक्ड पशुचारा तैयार करने की विधि व ऑटोमेटिक मशीनों द्वारा तैयार पौष्टिक चारा पैकिंग को बारीकी देखा गया, भ्रमण के दौरान दुग्ध उत्पादक दुग्ध समिति से लेकर दुग्धशाला तक की व्यवस्था को देखकर गदगद दिखाई दिये। भ्रमण दल में दुग्ध समिति रावतनगर तृतीय के अध्यक्ष दरपान सिह कोशयारी, राजू मंगला, बहादुर सिह धामी, मनोहर पन्त, मन्जु देवी, जसपाल सिह, महेश्वरी देवी समेत समिति सचिव चन्द्र बल्लभ परगांई व टीम लीडर दुग्ध संघ मार्ग प्रभारी मोहन जोशी व फील्ड सुपरवाइजर सुरेन्द्र सिह जग्गी मौजूद थे ।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments