देहरादून-(बड़ी खबर) उपनल से अब सिविलियन को नहीं मिलेगी नौकरी

खबर शेयर करें -

देहरादून– उत्तराखंड पूर्व सैनिक कल्याण निगम- उपनल से केवल पूर्व सैनिक और उनके आश्रितों को ही नौकरी का मौका मिलेगा। सिविलयन के लिए उपनल का दरवाजा नहीं खोला जाएगा। वर्तमान में तीस हजार पूर्व सैनिक और उनके आश्रित नौकरी के उम्मीद में उपनल में रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(बड़ी खबर) शहर के 13 चौराहे चौड़ीकरण को लेकर DM ने दिए अहम निर्देश

विधानसभा सत्र के दौरान एक सवाल के जवाब में सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि उपनल की स्थापना केवल पूर्व सैनिक और उनके आश्रितों के पुनर्वास के लिए की गई है। पांच जुलाई 2016 को उपनल के दरवाजे में गैरसैन्य पृष्ठभूमि के लोगों के लिए बंद कर दिए गए थे।

कोरोना काल में बड़ी संख्या में प्रवासियों के वापस लौटने पर कुछ शर्तों के साथ सामान्य नागरिकों के लिए ढील दी दे गई थी। 31 मार्च 2022 के बाद से पुनः पुरानी व्यवस्था लागू हो चुकी है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) बिल्डर आत्महत्या मामले में दो गिरफ्तार
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - यहां पेड़ पर चढ़ी महिला को लगा करंट, दर्दनाक मौत

ज्यादातर सैनिक 35 से 40 साल की उम्र में रिटायर हो जाते हैं । इसलिए उपनल की स्थापना केवल पूर्व सैनिकों के लिए की गई थी । केवल उन्हें और उनके आश्रितों को ही नियुक्ति दी जाएगी। – गणेश जोशी, सैनिक कल्याण मंत्री

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments