भीमताल- प्रकृति को उसके स्वरूप लौटाने में अपना जीवन समर्पित कर रहे चंदन

खबर शेयर करें -

भीमताल– प्रकृति इंसानी जीवन के लिए कितनी महत्वपूर्ण है इसे हर कोई समझता और जानता है लेकिन दिन-रात प्रकृति का दोहन कर उस पर मरहम लगाने का समय भी इंसान के पास नहीं है । लेकिन लाखों करोड़ों की भीड़ में कुछ ऐसे भी लोग होते हैं जो इसका महत्व समझते हैं ऐसे ही नैनीताल जिले के भीमताल क्षेत्र के पर्यावरण प्रेमी चंदन नयाल है । जो अकेले प्रकृति को उसके स्वरूप में वापस लाने के लिए अपना जीवन समर्पित कर निरंतर मेहनत कर रहे हैं ।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून - VDO के पदो पर नियुक्ति और परशिक्षण को लेकर UPDATE

मानसून शुरू हो चुका है लगातार पिछले 10 वर्ष से पर्यावरण संरक्षण और जल संरक्षण के लिए कार्य कर रहे चंदन नयाल पर्यावरण प्रेमी द्वारा आज अपने गांव के जंगल में 500 से अधिक बांज, बुरांश, खरसू, और देवदार का पौधारोपण किया उनके द्वारा एक जंगल तैयार किया जा रहा है जिसमें विभिन्न प्रजातियों के पौधों का पौधारोपण और संरक्षण किया गया है पर्यावरण प्रेमी चन्दन नयाल और उनके साथी पिछले कई वर्षों से लगातार जंगलों के संरक्षण में लगे हुए हैं साथ ही जंगलों की आग से बचाने चाल खाल खंतिया बनाने में भी लगातार कार्य करते हैं आज ओखलकांडा ब्लाक के ग्राम नाई पंतौली के मध्य जंगल में पौधारोपण किया गया जिसमें बिरेंद्र सिंह, गोपाल सिंह, सुरेश सिंह ,गोपाल सिंह ,खिमेश नयाल ,चन्दू नयाल ,धीरज नयाल ,गोपाल बिष्ट , पीयूष नयाल,गुंजन नयाल ,माया नयाल आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) 1592 शिक्षकों की जल्द होगी भर्ती
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments