उत्तराखंड – (दुख:द) पत्नी की 1 महीने पहले हुई थी मौत, अब पति और बेटे ने उठाया लिया यह कदम

खबर शेयर करें -

Haridwar News: उत्तराखंड के हरिद्वार जिले से दर्दनाक खबर सामने आ रही है यहां भगवानपुर के सरठेडी गांव में एक ग्रामीण ने अपने नाबालिग बेटे के साथ जहरीले पदार्थ का सेवन कर जीवन लीला समाप्त कर ली अस्पताल में उपचार के दौरान दोनों की मौत हो गई ,पुलिस ने शव कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है
बताया गया है कि पिछले महीने ग्रामीण की पत्नी की हार्टअटैक से मौत हो गई थी। इसी बात से वह परेशान था। आत्महत्या को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है। वहीं पुलिस मामले की छानबीन कर रही।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(बड़ी खबर) IAS दीपक रावत के निर्देश, 15 दिन के भीतर 15 साल का अतिक्रमण करें चिन्हित

प्राप्त समाचार के मुताबिक भगवानपुर थाना क्षेत्र के सरठेडी गांव निवासी जोगिंदर (40) दिव्यांग था तथा हलवाई का काम करता था। करीब 20 दिन पहले जोगेंद्र की पत्नी को हार्ट अटैक आ गया था। इसी दौरान उसकी मौत हो गई थी। पत्नी की मौत के बाद से जोगेंद्र और उसका बेटा शिवम (15) काफी दुखी थे।

शनिवार देर शाम जोगेंद्र ने अपने बेटे शिवम को घर में रखे कीटनाशक का सेवन कराया। इसके बाद उसने खुद भी कीटनाशक का सेवन कर लिया। जिसके बाद दोनों की तबीयत बिगड़ गई। इसी बीच परिवार के कुछ लोगों को जब इसका पता चला तो उनके होश उड़ गए।
आनन-फानन में उन्हें रुड़की के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया। जहां पर देर रात उपचार के दौरान पिता-पुत्र की मौत हो गई। घटना की सूचना भगवानपुर थाना पुलिस को भी दी गई। पुलिस ने दोनों का शव को कब्जे में ले लिया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड के मैदानी जिलों में प्रचंड गर्मी का प्रकोप, हीट वेव का अलर्ट..
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड -(दुखद) यहां खाई गिरी कार दो लोगों की मौत, 3 घायल

भगवानपुर थाना प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक दो सप्ताह पहले जोगिंदर की पत्नी की मौत हो गई थी। इसी बात से वह काफी परेशान था। उन्होंने आशंका जताई है कि इसी बात के चलते जोगिंदर और उसके बेटे ने यह कदम उठाया है हालांकि मामले की जांच की जा रही है। वही मृतक के परिजन भी इसी तरह की आशंका जता रहे हैं।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments