उत्तराखंड- यहां नहीं कोई छोटा बड़ा, पुलिस महकमे के पूर्व मुखिया के ऊपर केस..

खबर शेयर करें -

देहरादून- एक पुराने मामले ने प्रदेश के पूर्व डीजीपी बीएस सिद्धू की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। दरअसल, उनके खिलाफ जल्द ही मुकदमा दर्ज हो सकता है। मसूरी में सरकारी जमीन पर कब्जे की कोशिश और पेड़ काटने के आरोप में शासन ने भी इसकी मंजूरी दी है। वन विभाग द्वारा तैयारी की जा रही है।

साल 2012 में मसूरी वन प्रभाग में पूर्व डीजीपी द्वारा डेढ़ हेक्टेयर जमीन खरीदी गई। मार्च 2013 में यहां के 25 पेड़ कटे तो वन विभाग ने जांच की। जिसमें इस जमीन पर रिजर्व फॉरेस्ट का हक होने का खुलासा हुआ। ऐसे में अवैध तरीके से जमीन खरीदने और पेड़ काटने के मामले में वन विभाग ने पूर्व डीजीपी का जुर्माना काटा और रजिस्ट्री भी कैंसिल हो गई।

हाल ही में वन विभाग ने सिद्धू पर उक्त आरोप में आईपीसी की धाराओं में मुकदमा दर्ज करवाने की अनुमति शासन से मांगी थी। अब वन सचिन विजय कुमार यादव ने अनुमति दी है। डीएफओ मसूरी को निर्देश मिल चुके हैं। डीएफओ मसूरी आशुतोष ने भी पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) कॉलेजों में अब 15 दिन की छुट्टियां कम करने की तैयारी
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून- (बड़ी खबर) राज्य के मेडिकल कॉलेजों में होगी 1200 पदों पर भर्ती

पूर्व डीजीपी बीएस सिद्धू का कहना है कि वन विभाग पहले भी उनपर गलत कार्रवाई कर चुका है। इस बार ऐसा हुआ तो कानूनी कार्रवाई करूंगा। सचिव वन, विजय यादव ने बताया कि विभाग द्वारा भेजे गए पत्र के मुताबिक पूर्व डीजीपी के खिलाफ आईपीसी में मुकदमा दर्ज करने की अनुमति दी गई है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) पुलिस कांस्टेबल भर्ती को लेकर आई बड़ी अपडेट

About Post Author

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

WP Post Author

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments